Biography

Shah Rukh Khan Biography of in Hindi-शाहरुख़ खान जीवनी

शाहरुख़ खान जीवनी – Biography of Shah Rukh Khan in Hindi Jivani

Shah Rukh Khan Biography of in Hindi

शाहरुख खान एक प्रसिद्ध भारतीय अभिनेता हैं। उनके प्रशंसक उन्हें प्यार से SRK, किंग खान, किंग ऑफ रोमांस और बाधशाह जैसे उपनामों से बुलाते हैं।एक अभिनेता होने के अलावा, वह एक प्रतिभाशाली निर्माता और उद्यमी भी हैं।शाहरुख खान का जन्म 2 नवंबर 1965 (उम्र 54 वर्ष; 2019 में) नई दिल्ली में हुआ था।जब उनका जन्म हुआ था, तो उनका नाम उनकी नानी ने अब्दुल रहमान रखा था, लेकिन उनके पिता ने इसे बदलकर शाहरुख कर दिया।उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा दिल्ली के सेंट कोलंबा स्कूल में की, जहाँ वे विकेटकीपर के रूप में क्रिकेट खेला करते थे।उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय के हंसराज कॉलेज से अर्थशास्त्र में स्नातक की डिग्री पूरी की।वह नई दिल्ली में जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय से मास कम्युनिकेशंस (फिल्म निर्माण) में स्नातकोत्तर भी हैं।वह अपने स्कूल के दिनों में एक प्रतिभाशाली छात्र थे और यहां तक ​​कि अपने स्कूल में ‘स्वॉर्ड ऑफ ऑनर’ का पुरस्कार भी प्राप्त करते थे।

Education

यहीं पर Shahrukh Khan की शुरुआती शिक्षा सेंट कोलम्बस स्कूल से हुई और आगे की पढ़ाई के लिए हंसराज कॉलेज को जॉइन किया और स्नातक की डिग्री प्राप्त किया।कॉलेज के दिनों में उनका समय पढ़ाई में कम, दिल्ली थिएटर एक्शन ग्रुप में ज्यादा बीतता था। उन्हें वहाँ थिएटर के निर्देशक बैरी जॉन से एक्टिंग के गुर सीखने को मिले।इसके बाद उन्होंने जामिया मिलिया इसलामिया से Mass Communications में Post Greduation करने लगे।पर पढ़ाई में मन नहीं लगा। वे पढ़ाई छोड़ एक्टिंग में ही अपनी कैरियर बनाने के मन से National School of Drama से Acting की औपचारिक शिक्षा प्राप्त की।

TV Serials में डेब्यु

शुरुआत में उन्होंने अपने एक्टिंग कैरियर की शुरुआत छोटे पर्दे से की। उन्होंने दिल दरिया, फौजी, सर्कस, उमीद और वगले की दुनिया जैसे कई टीवी सीरियल्स में काम करते हुए अपनी प्रारम्भिक पहचान बनाई।जल्द ही बेहतरीन एक्टिंग के कारण उनकी तुलना बॉलीवुड लिजेंड दिलीप कुमार से किया जाने लगा। पर उस समय उन्होंने फिल्मों में काम करने से साफ मना कर दिया था।

बॉलीवुड में डेब्यु

पर जब 1991 में उनकी माँ का इंतकाल हुआ तो वे गहरे गम में डूब गए, क्योंकि कैंसर से उनके पिता का मौत पहले ही चुका था।माता-पिता के मौत के कारण उनकी बड़ी बहन शहनाज लालरुख गहरी डिप्रेसन की स्थिति में चली गई, जो आज भी भाई शाहरुख खान के साथ रहती है और वो अपनी बहन का पूरा ख्याल रखते है|इन्हीं वजहों से मिले गम को दूर करने के लिए वे फिल्मों में काम करने के लिए मुंबई चले गए।शायद बॉलीवुड भी उनका इंतजार कर रहा था, जाते ही उन्हें एक नहीं, चार फिल्मों में काम करने का मौका मिला।उन्हें पहला ऑफर हेमा मालिनी निर्देशित “दिल आशना है” फिल्म के लिए मिला, जिसका वे पहला शॉट जून में दें चूक थे। पर उनकी शानदार डेब्यु फिल्म “दीवाना” से हुई। फिल्म सुपर हीट हुई।इस फिल्म में उनके अव्वल पर्फ़ोमेंस के लिए उन्हें Filmfare Best Male Debut Award से सम्मानित किया गया, जो King Khan के राज का आगाज था |

शादी :

शाहरूख एक ऐसे अभिनेता रहें हैं जिनके प्रशंसक हर उम्र और हर वर्ग के लोग हैं। खासकर, लड़कियां उनकी काफी दीवानी हैं लेकिन बावजूद इसके शाहरूख का किसी के साथ अफेयर या प्रेम संबंध नहीं रहा है। वे अपनी पत्नी के लिए हमेशा से वफादार रहे हैं और अपने परिवार से बेहद प्यार करते हैं। शाहरूख ने गौरी से शादी की है जो हिन्दू-पंजाबी परिवार से आती हैं। उनके 3 बच्चे हैं-आर्यन, सुहाना और अबराम। फिल्म इंडस्ट्री में उन्हें सबसे अच्छा पिता भी माना जाता है क्योंकि वे अपने बच्चों से बेहद प्यार करते हैं और उनके साथ अच्छा समय भी व्यतीत करते हैं।

Personal Life

एक मिडल क्लास फैमिली में जन्में Shahrukh Khan जीवन के मूल्यों को अच्छी तरह से जानते है। जिसके कारण जब 1991 में उनकी माँ की मौत हुई थी, तब उनकी बड़ी बहन  Deeply Depressed  हो गई थी।उसी साल उनका विवाह गौरी छिब्बर, जो एक हिन्दू पंजाबी फैमिली से है, से उनका विवाह हुआ। बाद में गौरी गौरी छिब्बर से गौरी खान बन गई।फिर भी शाहरुख खान हिन्दू धर्म के सभी त्यौहारों को बड़े उल्लास के साथ अपने परिवार के साथ मनाते है।यानि उनका परिवार हिन्दू-मुस्लिम एकता का मिशाल है, जिसमें उनकी बड़ी बहन शहनाज लालरुख, उनकी पत्नी गौरी खान, दो बेटे आर्यन (1997) और अबराम (2003) और एक बेटी सुहाना(2000) है।

एक रोचक बात

बहुत ही कम लोग Shahrukh Khan का असली नाम जानते है। उनका असली नाम शाह रुख खान है। दरअसल शाहरुख खान उनका बचपन का नाम है। जब वे बड़े हुए तो उन्होंने अपने नाम को शाहरुख खान से शाह रुख खान कर लिया। मतलब इन नामों में लिखने मात्र का अंतर, जबकि कहने-सुनने में समान है।

Quick Fact

Name – Shahrukh Khan
Date of birth – 2 November, 1965
Age – 50 Years (2016)
Birth of Place – New Delhi
Height – 5’8”
Weight – 67 Kg

Family

Father – Meer Taj Mohammed Khan
Mother – Latif Fatima
Sister– Shahnaz Lalarukh
Wife – Gauri Khan
Sons – Aryan, AbRam
Daughter – Suhana

रोचक बातें :

1. लॉस एंजिलेस टाइम्स ने उन्हें दुनिया का सबसे बड़ा मूवी स्टार बताया है। उनके प्रशंसकों की संख्या भारत के साथ साथ विदेशों में भी बहुत ज्यादा है।
2. शाहरूख ख़ान उनके फिल्मी करियर के दौरान तो कई पुरस्कार मिले ही, इसके अलावा भी कई पुरस्कार मिले। वे फिल्मफेयर पुरस्कारों में 30 बार नामांकित हो चुके हैं जिनमें से 14 बार यह पुरस्कार हासिल किया है और इसमें भी 8 बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के तौर पर यह पुरस्कार हासिल किया है। वह दिलीप कुमार के साथ इस श्रेणी में सबसे अधिक 8 पुरस्कार पाने वाले अभिनेता हैं।

3. फ्रांस सरकार ने उन्हें ‘ओरड्रे डेस आर्ट्स एट डेस लेट्रेस’ और उनके सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘लीजन डी ऑनर’ नामक पुरस्कार से भी नवाजा है।
4. शाहरुख़ के घर में हिन्दू-मुस्लिम दोनों धर्मों को बराबर से सम्मान दिया जाता है। उनके बच्चे दोनों धर्मों का पालन करते हैं।
5. शाहरुख़ के द्वारा दोनों हाथों को फैला के किए जाने वाला स्टेप आज एक ‘सिग्नेचर स्टेप’ बन चुका है।
6. शाहरूख ख़ान अपनी फिल्मों के लेकर बहुत मेहनत करते हैं। वे पूरे दिन में मात्र 3 से 4 घंटे की ही नींद लेते हैं और यही कारण है कि इतने लंबे समय से वे शीर्ष पर हैं।
7. भारत के प्रभावशाली अभिनेताओं में से एक हैं जो कि फोर्ब्स इंडिया की 100 सेलिब्रिटीज की लिस्ट में 2012 और 2013 में शीर्ष स्थान पर रहे हैं।

शाहरुख-गौरी की प्रेम कहानी :

शाहरुख का पारिवारिक जीवन किसी परीकथा की तरह खुशगवार, लेकिन उतार-चढ़ाव से भरापूरा नजर आता है। एक्टिंग-करियर में शाहरुख को इतनी अनिश्चितता का सामना नहीं करना पड़ा, जितना खानदानी मोर्चे पर। हर परीकथा की शुरुआत त्रासद होती है और अंत खुशनुमा। माँ-बाप का साया असमय उठ जाने से शाहरुख के जीवन में आए खालीपन को पत्नी गौरी ने कुशलतापूर्वक भर दिया।   आज शाहरुख और गौरी फिल्म इंडस्ट्री के सबसे खुश किस्मत दंपति माने जाते हैं।

इस परिवार की पूर्णता बेटे आर्यन, अबराम और बेटी सुहाना के रूप में हुई है। सुपर स्टार पति, निष्ठावान पत्नी, पुत्र-पुत्री का जोड़ा इससे सुखद किसी परिवार की रचना और क्या हो सकती है? शाहरुख का दांपत्य जीवन संतुलन और सौभाग्य का संगम है।   रोमांस के मामले में शाहरुख ने अपने पिता की रसिकमिजाजी का अनुसरण किया है। शाहरुख के वालिद मरहूम ताज मोहम्मद ने भी प्रेम विवाह किया था।

बड़े मियाँ और उनकी संभावित बेगम साहिबा की पहली मुलाकात दिल्ली के  के इंडिया गेट पर हुई थी। मीर साहब वहाँ अपने एक करीबी दोस्त के साथ घूमने आए थे। उसी दौरान एक नाजनीन फातिमा (शाहरुख की माँ) अपनी दो बहनों और अब्बा हुजूर के साथ इंडिया गेट पर पहुँची।  ताज मोहम्मद के दिलोदिमाग पर पहली ही नजर में यह गुलेबकावली छा गई

sabdekho

Add Comment

Leave a Comment

error: Content is protected !!