Biography

Peter Handke Biography in Hindi – पीटर हैंडके की जीवनी

Peter Handke Biography in Hindi – नोबेल विजेता पीटर हैंडके की जीवनी

image

Peter Handke Biography in Hindi

साहित्य का नोबेल पाने वालों में साल 2019 का पुरस्कार पीटर हैंडके को दिया गया है जो आस्ट्रियाई मूल के लेखक हैं.आस्ट्रिया मूल के लेखक पीटर को उनके इनोवेटिव लेखन और भाषा में नवीनतम प्रयोगों के लिए ये पुरस्कार दिया गया है.

पीटर हैंडके का जन्म 6 दिसंबर 1942 को ग्रिफ्फेन, ऑस्ट्रिया में हुवा था। हैंडके और उनकी मां 1944 से 1948 तक बर्लिन के सोवियत कब्जे वाले पैंको जिले में रहते थे। इनके सौतेला पिता ब्रूनो का शराब का कारोबार था। हैंडके छूटे से शहर में बड़े हुवे।

1954 में, हैंडके को कैथेट वीट ए डेर ग्लेन, कारिन्थिया के तानज़ेनबर्ग कैसल में कैथोलिक मरीन लड़कों के बोर्डिंग स्कूल में भेजा गया था। यहाँ, उन्होंने अपना पहला लेखन स्कूल के अखबार, फेकेल में प्रकाशित किया। 1959 में, वह क्लागेनफ़र्ट में चले गए, जहाँ वे हाई स्कूल गए और 1961 में उन्होंने ग्राज़ विश्वविद्यालय में कानून की पढ़ाई शुरू की।

लेखिका के साथ साथ सामाजिक कार्यकर्ता की भूमिका निभाने वाली ओल्गा टोकारजुक को 2018 का साहित्य का नोबेल दिया जा रहा है. वो मौजूदा पीढ़ी के व्यावसायिक रूप से सफल लेखकों में से एक हैं. साल 2018 में उन्हें उपन्यास फ्लाइट्स (जेनिफर क्रॉफ्ट द्वारा अनुवादित) के लिए बुकर प्राइज भी दिया गया था. वो पोलैंड की पहली लेखिका हैं जिन्हें अपने काम के लिए नोबेल और बुकर दोनों ही पुरस्कार मिल चुके हैं.

वारसॉ विश्वविद्यालय से मनोवैज्ञानिक के तौर पर प्रशिक्षण लेने वाली वोल्गा छोटी गद्य रचनाओं के साथ कविताओं, कई उपन्यासों, साथ ही अन्य पुस्तकों का संग्रह प्रकाशित किया. ‘फ्लाइट्स’ ने 2008 में, पोलैंड का शीर्ष साहित्यिक पुरस्कार नाइकी अवार्ड भी जीता.

Me too अभियान के कारण पिछले साल साहित्य का नोबेल नहीं दिया गया था. बता दें कि पिछले साल नोबेल संस्थान की एक पूर्व सदस्या के पति फ्रांसीसी फोटोग्राफर ज्यां क्लाउड अर्नाल्ट पर यौन शोषण के आरोप लगे थे. इसके बाद स्वीडन की अकादमी को काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था. इसी वजह से उसने 2018 के साहित्य के नोबेल पुरस्कार नहीं देने की घोषणा की थी. ये पहला मौका नहीं था. इससे पहले 1936 में भी पुरस्कार नहीं दिए गए थे.

पीटर हैंडके का कैरियर – Peter Handke Career

अध्ययन करते समय, हैंडके ने युवा लेखकों के संघ, ग्रज़र ग्रुप के साथ जुड़कर खुद को एक लेखक के रूप में स्थापित किया। यहीं ग्रुप ने साहित्यिक डाइजेस्ट पांडुलिपि प्रकाशित की। इसके सदस्यों में एल्फ्रीड जेलीनेक और बारबरा फ्रिस्मुथ शामिल थे।

1965 में जर्मन पब्लिशिंग हाउस सुह्रकैंप वर्लाग में अपने उपन्यास डाई हॉर्निसेन (द हॉर्नेट्स) को प्रकाशन के लिए स्वीकृति मिलने के बाद हैंडके ने अपनी पढ़ाई छोड़ दी। उन्होंने प्रिंसटन, न्यू जर्सी, अमेरिका में ग्रूप 47 से संबंधित एवेट-गार्डे कलाकारों की एक बैठक में उपस्थिति के बाद अपना ध्यान आकर्षित किया, जहां उन्होंने अपने नाटक (ऑफेंडिंग द ऑडियंस) को प्रस्तुत किया। हैंडके 1969 में पब्लिशिंग हाउस वेरलाग डेर ऑटोरेन के सह-संस्थापकों में से एक बन गए और 1973 से 1977 तक ग्रैजर ऑटोरेनवरमलांग समूह के सदस्य के रूप में भाग लिया।

हैंडके ने फ़िल्मों के लिए कई पटकथाएँ लिखी हैं। उन्होंने डाइ लिंक्शैन्डी फ्राउ (द लेफ्ट-हैंडेड वुमन) का निर्देशन किया, जो 1978 में रिलीज़ हुई थी। इस फिल्म को 1978 में कान्स फिल्म फेस्टिवल में गोल्डन पाम अवार्ड के लिए नामांकित किया गया था, और 1980 में जर्मन आर्थो सिनेमा के लिए गोल्ड अवार्ड जीता। हेंडके ने अपनी पटकथा फाल्सी बेवंग के लिए 1975 में गोल्ड में जर्मन फिल्म अवार्ड भी जीता। इसके अलावा, उन्होंने Wim Wenders की फिल्म Wings of Desire लिखने में एक बड़ी भूमिका निभाई। फिल्म की शुरुआत में कविता भी उनके द्वारा लिखी गई थी। 1975 के बाद से, हैंडके यूरोपीय साहित्यिक पुरस्कार पेटरका-प्रीस के जूरी सदस्य रहे हैं।

ग्राज़ छोड़ने के बाद, हैंडके डसेलडॉर्फ, बर्लिन, क्रोनबर्ग, पेरिस, फ्रांस, संयुक्त राज्य अमेरिका (1978 से 1979) और साल्ज़बर्ग, ऑस्ट्रिया (1979 से 1988) में रहे। 1991 के बाद से, वह पेरिस के पास चविल में रहते हैं।

सम्मान और पुरूस्कार – Peter Handke Awards

  • 1973: जॉर्ज बुचनर पुरस्कार
  • 1987: विलेनिका इंटरनेशनल लिटरेरी प्राइज
  • 2000: ब्रदर्स क्रिएक अवार्ड
  • 2002: अमेरिका अवार्ड
  • 2008: ग्रोवर लिटरेटोपरिसिस डेर बेयरिसचेन अकादेमी डेर शोनेन कुनेस्ट
  • 2009: फ्रांज काफ्का पुरस्कार
  • 2012: मुल्हाइमर ड्रामाटिकरपेरिस
  • 2014: अंतर्राष्ट्रीय इबसेन पुरस्कार
  • 2018: Nestroy-Theaterpreis
  • 2019: साहित्य का नोबेल पुरस्कार

Leave a Comment

image
error: Content is protected !!