Biography

Charlie Chaplin Biography In Hindi – चार्ली चैप्लिन

चार्ली चैप्लिन का जीवन परिचय | Charlie Chaplin Biography Quotes In Hindi

image

Charlie Chaplin Biography In Hindi

आज हम बात करने जा रहे है बहुत ही मशहूर ब्रिटिश कॉमेडी अभिनता सर चार्ल्स स्पेंसर या चार्ली चैपलिन की |वे एक मशहूर ब्रिटिश कॉमेडी अभिनता थे जिन्होंने मूक चलचित्र या silent films में अपना एक अलग ही बनाया। 20वीं सदी के वे सबसे मशहूर और बड़े अभिनेता थे।उनकी अभिनय के कारण उनका नाम पुरे विश्व भर में सार्वभौमिक प्रतीक बन गया है और जाने माने अभिनेताओं में प्रमुख भी माना जाता है।

क्र.म.    जीवन परिचय बिंदु         जीवन परिचय
1. पूरा नाम चार्ली स्पेंसर चैपलिन
2. जन्म 16 अप्रैल 1889
3. जन्म – स्थान लन्दन इंग्लैंड
4. पेशा अभिनेता, निर्देशक, संगीतकार, सम्पादक, पटकथा लेखक, निर्माता आदि
5. कैरियर सन 1899 से सन 1976 तक
6. पिता चार्ल्स चैपलिन सर.
7. माता हन्नाह चैपलिन
8. पत्नी
  • मिल्ड्रेड हर्रिस (पहली शादी)
  • लीता ग्रे (दूसरी शादी)
  • पौलेट्टे गोद्दार्ड (तीसरी शादी)
  • ऊना ओ’नील (चौथी शादी)
9. बच्चे 11
10. मृत्यु 25 दिसंबर 1977

जन्म:-

चार्ली चैप्लिन का जन्म 16 अप्रैल,1889 को ईस्ट स्ट्रीट, वॉलवर्थ, लंदन, इंग्लैंड में हुआ था। उनके पिता का नाम चार्ल्स स्पेंसर चैंपियन था और उनकी माता का नाम हैना चैंपियन था। वे दोनों सीनियर म्यूजिक हाल में गाते और अभिनय करते थे।चार्ली के पिता की मौत के वक़्त उनकी उम्र केवल 10 वर्ष की थी और उनकी माँ की बीमारी के चलते उन्हें और उनके भाई को बहुत ही कम उम्र में काम करने पर मजबूर कर दिया था | अपने माता-पिता से विरासत में प्राकृतिक प्रतिभा प्राप्त करने के बाद, उन्होंने अपने करियर के लिए सबसे अच्छे अवसर के रूप में मंच को चुना। चार्ली ने “द आठ लंकाशायर लाड्स” नामक एक किशोर समूह के सदस्य के रूप में अपनी काम की शुरुआत की और तेजी से एक उत्कृष्ट टैप नर्तक के रूप में अपनी पहचान बना ली।1910 में, चार्ली ने अमेरिका की यात्रा की और रोमांचकारी फिल्म उद्योग में अनुभव प्राप्त किया। यह अमेरिका में यहां था कि वह अपने पहले प्रसिद्ध पात्रों जैसे ट्रम्प – ट्रेडमार्क चार्ली चैपलिन के गेंदबाज टोपी, मूंछ और बीमार फिटिंग कपड़ों के चरित्र को विकसित करना था। इसी चरित्र के चलते चार्ली चैपलिन मूक युग का महान सितारा बन गया, और उसकी लोकप्रियता पूरी दुनिया में फैली |

चार्ली चैप्लिन की पत्नियों के नाम:-

  • हेट्टी केली -1908 में शादी और 1918 की महान फ्लू महामारी में इन्फ्लूएंजा की वजह से हेट्टी की मौत हो गई थी।
  • मिल्ड्रेड हैरिस (वि। 18 1918–21)
  • लिटा ग्रे (वि 24 1924–27)
  • पॉलेट गोडार्ड (वि। Lette 1936–42)
  • ऊना ओ’नील (वि। O’1943–77) –

ऊना ओ’नील बैरी के मामले में चैप्लिन के कानूनी मुसीबत के दौरान, वह यूजीन ओ’नील की बेटी, ऊना ओ’नील से मिले और उन्होंने 16 जून 1943 में शादी की।उस समय वे 54 साल के थे;और ऊना सिर्फ अठारह साल की थी। ओ’नील के बड़ों ने सगाई को दृढ़ता से अस्वीकृत किया और शादी के बाद, 1977 में उनकी मौत तक, ऊना के साथ किसी भी संपर्क से इनकार कर दिया। आठ बच्चों के साथ, उनकी शादी लंबी और खुशहाल थी। उनके तीन बेटे थे: क्रिस्टोफर, यूजीन और माइकल चैप्लिन और पाँच बेटियाँ थी: गेराल्डिन, जोसफीन, जेन, विक्टोरिया और अन्नेट-एमिली चैप्लिन. चैप्लिन के 73 साल में उनका आखिरी बच्चा पैदा हुआ था। ऊना ने चैप्लिन के साथ चौदह वर्ष बिताए. 1991 में अग्नाशयी कैंसर की वजह से उनकी मौत हो गई।

चार्ली चैप्लिन को अपनी पत्नियों से हुए बच्चों के नाम और जन्म तिथि:-

  • नॉर्मन स्पेन्सर चैप्लिन -7 जुलाई 1919
  • चार्ल्स स्पेन्सर चैप्लिन जूनियर -5 मई 1925
  • सिडनी अरले चैप्लिन- 31 मार्च 1926
  • गेराल्डिन लेह चैप्लिन -1 अगस्त 1944
  • माइकल जॉन चैप्लिन- 7 मार्च 1946
  • जोसफीन हैन्ना चैपलिन -28 मार्च 1949
  • विक्टोरिया चैपलिन- 19 मई 1951
  • यूजीन एंथनी चैपलिन -23 अगस्त 1953
  • जेन सेसिल चैपलिन- 23 मई 1957
  • अन्नेट एमिली चैपलीन -3 दिसंबर 1959
  • क्रिस्टोफर जेम्स चैपलीन -6 जुलाई 1962

चार्ली चैपलिन का कैरियर:-

सन 1897 में चैपलिन ने सोचा कि वे अपनी माता के कॉन्ट्रैक्ट का उपयोग करके उनके व्यवसाय को और बेहतर बनायेंगें. उन्होंने बहुत कोशिश की किन्तु उससे ज्यादा फायदा ना होने के कारण उन्हें यह सब छोड़ना पड़ा. चैपलिन ने बहुत सी छोटी –छोटी नोकारियां भी की, किन्तु वे अपने अभिनेता बनने के लक्ष्य को कभी नही भूले. चार्ली ने 10 साल की उम्र के होने से पहले ही, अपनी पढाई को छोड़ दिया, क्युकि उस समय उनके पिता की मृत्यु हो गई और माता बीमार रहने लगी थी. जिस वजह से चार्ली और उनके भाई के लिए यह जरुरी था कि वे स्वयं के लिए प्रबंध करें |जब वे 12 साल के हुए, तब उन्हें एक लेजिटिमेट (legitimate) मंच के कार्यक्रम में नाटक प्रस्तुत करने का मौका मिला, और “शर्लाक होल्म्स” में विलियम जिल्लेट के सहयोग में पेज बॉय “बिल्ली” के रूप में उपस्थित हुए. इसके पश्चात सन 1908 में चार्ली ने वौडेविल्ले कंपनी (Vaudeville) में हास्य कलाकार के रूप में कैरियर की शुरुआत की, जिससे आखिरकार उन्हें सन 1910 में यूनाइटेड स्टेट्स की “फ्रेड कार्नो रेपेर्टिरे कंपनी” के साथ प्रधान अभिनेता बना दिया गया.वे अमेरिका की जनता के साथ तत्काल सफल होते चले गए, विशेष रूप से उनके चरित्र चित्रण की रूपरेखा में उन्होंने बहुत नाम कमाया. सन 1912 में चार्ली को मोशन पिक्चर कॉन्ट्रैक्ट करने का अवसर मिला. सन 1913 में कैमेरा में आने से पहले उन्हें वौडेविल्ले ((Vaudeville)) की जिम्मेदारी को छोड़ना पड़ा और इसके लिए वे तैयार हो गए थे. इसके बाद सिनेमा की दुनिया में उन्होंने कदम रखा, उसी महीने उन्होंने “मैक सेन्नेट” और “कीस्टोन” कंपनी ज्वाइन की. इनकी शुरूआती इनकम हफ्ते में 150 $ थी, लेकिन उनकी रातों रात सफलता के चलते दुसरे निर्माताओ ने उन्हें और अधिक पैसों के ऑफर देने लगे.

चार्ली चैपलिन का फ़िल्मी कैरियर:-

सन 1914 में चार्ली चैपलिन ने अपने फ़िल्मी कैरियर की शुरुआत की. सेंनेट फिल्मों में दुसरे अभिनेताओं को खुद से अलग करने के लिए, चैपलिन ने एक विशेष तरह के चरित्र में काम करने का फैसला किया. तब ट्रम्प करके चलने वाला छोटा बच्चा पैदा हुआ. जनता को उनका यह अभिनय बहुत पसंद आया. अगले एक साल में चैपलिन 35 फिल्मों में दिखाई दिए, इनमें एक लाइनअप की ‘टिल्लिस पंक्चर्ड रोमांस’ फ़िल्म भी शामिल है, यह फ़िल्म पूरी हास्य फ़िल्म थी. इस कॉन्ट्रैक्ट को ख़तम करने के बाद चैपलिन सन 1915 में “इस्सानय कंपनी” में काम करने लगे, जहाँ उन्हेंने 1250 $ पर सप्ताह स्वीकार किये. इस कम्पनी के साथ चैपलिन ने 14 फिल्में की. चैपलिन के किरदार को प्रत्याशित नायक के रूप में स्थापित किया है. जब वह किसान की बेटी को लुटेरों से बचाता है, आम तौर इनकी यह पहली क्लासिक फ़िल्म थी.26 साल की उम्र में वह एक सुपरस्टार था, और वह अपने वौडेविल्ले दिनों से दूर हो गया. वे एक म्यूच्यूअल कंपनी में चले गए, जहाँ उन्हें 670,000 $ पर साल भुगतान मिलता था. इन पैसों ने चैपलिन को अमीर आदमी बना दिया था, लेकिन उसे यह नही मालुम था कि वह अपनी कलात्मक ड्राइव की पटरी से उतरने लगा है. म्यूच्यूअल कम्पनी के साथ उन्होंने बहुत ही अच्छा काम किया, जिनमें उन्होंने सन 1916 में वन A.M., दी रिंक, दी वगाबोंड और सन 1917 में इजी स्ट्रीट फिल्में की.अपने काम के माध्यम से चैपलिन परफेक्शनिस्ट के रूप में जाने जाने लगे. उनके इन प्रयोगों से उन्हें अपार प्यार मिला. उनके लिए यह समझना मुश्किल था कि वे एक मुख्य अभिनेता वाली फ़िल्म से शुरुआत कर रहे थे, फिर उनको अहसास हुआ कि वे अपनी कास्टिंग में गलती कर रहे है और उन्होंने कुछ नया करने की फिर से ठान ली. 20वीं शताब्दी में चैपलिन का कैरियर और ज्यादा बढ़ने लगा. उसी दशक में उन्होंने कुछ ऐतिहासिक फिल्में की, सन 1921 में “दी किड”, सन 1923 में “दी पिल्ग्रिम”, “अ वुमन इन पेरिस”, सन 1925 में “दी गोल्ड रश”, सन 1928 में फ़िल्म सर्कस आई, चैपलिन इस फ़िल्म को हमेशा याद रखना चाहते थे.

प्रसिद्ध फिल्म:-

  • Modern Times-1936
  • The Great Dictator-1940
  • The Kid-1921
  • The Gold Rush-1925
  • City Lights-1931
  • Chaplin-1992
  • Limelight-1952
  • The Circus-1928
  • Easy Street-1917
  • A Dog’s Life-1918
  • Monsieur Verdoux-1947
  • The Immigrant-1917
  • A Woman of Paris-1923
  • A King in New York-1957
  • Kid Auto Races at Venice-1914
  • The Tramp-1915
  • Shoulder Arms-1918
  • The Adventurer-1917
  • A Countess from Hong Kong-1967
  • The Champion-1915
  • One A.M.-1916
  • Pay Day-1922
  • Behind the Screen-1916
  • The Rink-1916
  • The Pawnshop-1916
  • A Film Johnnie-1914
  • The Pilgrim-1923
  • The Vagabond-1916
  • The Chaplin Revue-1959
  • Making a Living-1914
  • The Count-1916
  • The Idle Class-1921
  • Triple Trouble-1918
  • A Day’s Pleasure-1919
  • The Fireman-1916
  • Laughing Gas-1914
  • His New Job-1915
  • In the Park-1915
  • The Floorwalker-1916
  • A Night Out-1915
  • Mabel’s Strange Predicament-1914
  • Twenty Minutes of Love-1914
  • A Busy Day-1914
  • Tillie’s Punctured Romance-1914
  • The New Janitor-1914
  • A Burlesque on Carmen-1915
  • The Rounders-1914
  • The Masquerader-1914
  • Caught in a Cabaret-1914
  • Tango Tangles-1914

पुरस्कार:-

1972 में फिल्म संगीत के लिए ऑस्कर से सम्मानित किया गया था | उन्हें इस ऑस्कर पुरस्कार के लिए जनता द्वारा इतिहास में सबसे लंबे समय तक खड़े होकर अभिवादन से नवाजा गया । यह पुरस्कार चैपलिन की अंतिम फिल्म, हांगकांग (A Countess from Hong Kong-1967) से ए काउंटीस, फिल्म निर्माता की पहली और एकमात्र रंगीन फिल्म के पांच साल बाद उन्हें मिला था | इस फिल्म में सोफ़िया लॉरेन और मार्लन ब्रैंडो जैसे कलाकारों के होने के बावजूद, फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कुछ कमाल नहीं कर पायी | जब उन्हें 1975 में क्वीन एलिज़ाबेथ द्वारा नाइट की उपाधि से नवाजा गया।

इस के अलावा उन्हे दिये गए पुरस्कारों की सूची इस प्रकार है:-

  • अकादमी मानद पुरस्कार -1972, 1929 · The Circus
  • सर्वश्रेष्ठ मूल संगीत स्कोर के लिए अकादमी पुरस्कार  -1973 · Limelight
  • BAFTA Fellowship(बाफ्टा फैलोशिप) -1976
  • सर्वश्रेष्ठ फिल्म के लिए किनेमा जूनो पुरस्कार -1925 · A Woman of Paris
  • सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए न्यूयॉर्क फिल्म क्रिटिक्स सर्कल अवार्ड -1940 · The Great Dictator
  • लाइफटाइम अचीवमेंट के लिए गोल्डन लायन -1972
  • सर्वश्रेष्ठ अमेरिकी फिल्म का बोडिल पुरस्कार -1949 · Monsieur Verdoux
  • इरास्मस पुरस्कार -1965
  • सर्वश्रेष्ठ विदेशी फिल्म निर्माता का जुस्सी पुरस्कार -1974 · The Great Dictator, Modern Times
  • बोडिल मानद पुरस्कार -1959
  • DGA मानद जीवन सदस्य पुरस्कार -1974
  • सर्वश्रेष्ठ विदेशी भाषा फिल्म के लिए किनेमा जूनो पुरस्कार -1961, 1953, 1927 ·The Great Dictator, Monsieur Verdoux, The Gold Rush
  • सर्वश्रेष्ठ विदेशी फिल्म के लिए ब्लू रिबन पुरस्कार -1953 ·Monsieur Verdoux

चार्ली चैपलिन के सुविचार :-

चार्ली चैपलिन के सुविचार कुछ इस प्रकार है-

  • हास्य के बिना एक दिन भी बर्बाद है.
  • एक सज्जन व्यक्ति, एक कवि, एक स्वप्न देखने वाला और एक अकेला आदमी, अक्सर रोमेंस और रोमांच की आशा करते है.
  • यदि आपको बस मुस्कान मिल जाये, तो आपका जीवन सार्थक हो जायेगा.
  • यदि आपको लोग अकेला छोड़ दें, तो आपका जीवन बढ़िया हो जायगा.
  • सारी निराशाओं के लिए सही प्यार सबसे सुन्दर है, क्यूकि इसे एक से ज्यादा बार इजहार कर सकते है.
  • मैं इस पर विश्वास नही करता हूँ कि वे क्या चाहते है, मैंने अपने कैरियर से यही निष्कर्ष मिकला है.
  • वास्तव में हंसने के लिए, आपको अपने दर्द के साथ खेलने की काला आनी चाहिए.
  • दर्द से राहत के लिए हास्य एक टॉनिक है.
  • निराशा एक नशीली दवा है, यह उदासीनता में मन को अशांत कर देती है.
  • हम सोचते ज्यादा है और महसूस कम करते है.
  • लोगों की नफरत खत्म हो जाएगी, ताना मारने वाले मर जायेंगे, और जो शक्ति उन्होंने लोगों से छीनी है वह लोगों को वापस प्राप्त हो जाएगी. अंत में, सब कुछ एक मजाक है.
  • मेरा मानना है कि, सही समय पर गलत काम करना जिंदगी की विडंबना है.
  • मेरी पीढ़ा किसी के हंसने की वजह हो सकती है, लेकिन मेरा हास्य कभी किसी के लिए पीढ़ा की वजह नहीं होना चाहिए.
  • कल्पना के बिना आप कुछ नही कर सकते.
  • जीवन बढ़िया हो सकता है, यदि आप इससे डरें नहीं.
  • मैं भगवान के साथ शांत हूँ, मेरा संघर्ष इंसान के साथ है.
  • असफलता जरुरी नहीं है, यह अपने आप को मुर्ख बनाने में साहस देती है.
  • शीशा मेरा सबसे अच्छा दोस्त है, क्यूकि जब में रोता हूँ तब वह कभी नहीं हँसता.
  • मैं नफरत और आतंक के इलाज के रूप में हास्य और आंसूओं पर विश्वास करता हूँ.
  • इस दुष्ट दुनिया में कुछ भी स्थायी नहीं है – यहाँ तक कि हमारी परेशानियाँ भी.
  • एक दोस्त के लिए जरुरत में मदद करना आसान है, लेकिन उसे हमेशा अपना समय देने के लिए अवसर नहीं है.
  • सबसे दुखी चीज जिसकी मैं कल्पना करता हूँ, वह है लक्ज़री का आदि हो जाना.
  • मैं लोगों के लिए हूँ, मैं इनकी मदद नहीं कर सकता.
  • जीवन एक नाटक है, जिसमें परिक्षण की अनुमति नहीं होती. तो गाना, रोना, नाचना, हँसना, और प्यार तीव्रता से कर लेना चाहिए. इससे पहले की कोई पर्दा बंद कर दे और तालियों के साथ यह खंड समाप्त हो जाये.
  • मेरी सारी फ़िल्में मुश्किल में पड़ने की योजना के अगल – बगल होती है, इसलिए मुझे गंभीरता से एक साधारण सज्जन व्यक्ति दिखने का अवसर देती है.
  • प्रतिभाशाली होने के लिए, मुझे दवाओं की जरुरत नहीं है. एक प्रतिभाशाली इंसान यह जानता है, लेकिन मुझे खुश रहने के लिए आपकी मुस्कान की जरुरत है.
  • हमारे अहंकार के प्रकाश में, हम राजाओं की गद्दी पर से उतर गए है.
  • एक हास्य फ़िल्म बनाने के लिए मुझे सिर्फ एक पार्क, एक पुलिसकर्मी, और एक खुबसूरत लड़की की जरुरत होती है.
  • मैं हमेशा बरसात में चलना पसंद करता हूँ, तो कोई भी मुझे रोते हुए नही देख सकते हैं.
  • तानाशाह खुद को आजाद कर लेते है किन्तु लोगों को दास बना लेते है.
  • मुझे चरित्र के बारे में कुछ पता नही था. किन्तु जैसे ही मैं तैयार हुआ, कपड़े और मेकअप मुझे उस व्यक्ति की तरह महसूस कराने लगे. मैं उसे जानने लगा और मंच पर जाते – जाते वह पूरी तरह से पैदा हो गया.
  • हम सभी दूसरों की मदद करना चाहते है. लोग यह पसंद भी करते है. हमें एक दूसरे की ख़ुशी में खुश होना चाहिए, न कि एक दूसरे की गरीबी में.
  • क्यों कविता समझ बनाने के लिए होना चाहिए?
  • यह बेरहम दुनिया है और इसका सामना करने के लिए आपको भी बेरहम बनना पड़ेगा.
  • अभिनेता ठुकराय जाने की तलाश करते है, यदि उन्हें यह नहीं मिलता तो वे खुद को ठुकरा देते है.
  • भूरे बालों वाली औरतें मुश्किलें पैदा करती है, वे यहूदियों से भी ज्यादा जालिम होती है.
  • इतिहास की पुस्तकों की तुलना में, वहाँ कला के कार्यों में और भी अधिक मान्य तथ्य और जानकारी है.
  • यही कारण है कि दुनिया के साथ परेशानी है. हम सभी खुद से घृणा करते है.

Leave a Comment

image
error: Content is protected !!