12-geography

bihar board 12 class geography | विश्व जनसंख्या : वितरण

bihar board 12 class geography | विश्व जनसंख्या : वितरण

[The World Population : Distribution, Density and Growth ]
भौगोलिक शब्द तथा परिभाषाएँ
●मानव विकास के सूचक (Indicators of Human Development)-जीवन प्रत्याशा
अवधि, साक्षरता, प्रति व्यक्ति आय मुख्य सूचक है। भारत का मानव विकास में विश्व में
108वां स्थान है।
●मानव (Man)-मानव को भूतल पर केन्द्रीय स्थान प्राप्त है। ।
●विश्व जनसंख्या घनत्व (Density of Population of the World)-जनसंख्या घनत्व
मानव व भूमि का अनुपात है। विश्व में औसत घनत्व 45 व्यक्ति प्रति वर्ग किमी है।
●जनसंख्या वृद्धि के निर्धारक (Determinants of Population Growth)-जन्म दर,
मृत्यु दर, जनसंख्या की गतिशीलता।
●मानव विकास (Human Development)-मानव जीवन के उत्तम गुण उत्पन्न करने की
क्रिया है।
●जन्मदर (Birth Rate)-प्रति हजार में जीवित शिशु संख्या ।
●मृत्यु दर (Death Rate)-प्रति हजार जनसंख्या में मृत्यु संख्या ।
●जीवन प्रत्याशा (Life Expectancy)-प्रति हजार जनसंख्या पर उत्तरजीवी जनसंख्या
अर्थात् जनसंख्या के जीवित रहने की एक औसत आयु ।
●जनसांख्यिकीय संरचना (Demographic Structure)-जनसंख्या की मृत्युदर, जन्मदर,
लिंग अनुपात, आश्रित अनुपात एवं उसकी अर्जक शक्ति के अनुसार अध्ययन ।
●सम्पूर्ण जनसंख्या (Total Population) -कुल जनसंख्या ।
●जनसंख्या घनत्व (Density of Population)-प्रति वर्ग किलोमीटर में रहने वाले लोगों
की औसत संख्या।
●वृद्धि दर (Growth Rate) प्रति हजार व्यक्तियों पर एक वर्ष में मरने वालों की संख्या
मृत्युदर कहलाती है। जन्म दर मृत्यु दर के मध्य अन्तर को जनसंख्या वृद्धि दर कहते हैं।
●प्रवास (Migration)-एक स्थान से दूसरे स्थान पर जनसंख्या का स्थानान्तरण ।
●उत्प्रवास (Emigration)-एक ग्राम या नगर से अधिक आबादी, रोजगार की कमी के
कारण जब लोग उस स्थान को छोड़कर अन्यत्र स्थानान्तरण करते हैं तो इस क्रिया को बाह्य
प्रवास या उत्प्रवास कहते हैं।
●आप्रवास (Immigration)-बड़े नगरों, व्यापारिक केन्द्रों, औद्योगिक नगरों, बन्दरगाहों
आदि में रोजगार पाने के लिए लोगों का आकर बस जाना।
●जनगणना (Census)-सरकार द्वारा किसी क्षेत्र अथवा देश के निवासियों की किसी समय
विशेष में गणना जिसके साथ कुछ सामाजिक एवं आर्थिक आँकड़े एकत्र किए जाते हैं।
भारत में जनगणना प्रायः हर दस वर्ष के बाद की जाती है।
●संकेन्द्रण सूचकांक (Inder of Concentration)-देश की कुल जनसंख्या का वह भाग
जो किसी राज्य अथवा किसी प्रदेश में पाया जाता है। इसे प्रतिशत में व्यक्त करते हैं।
●प्रवासी (Migrant) कोई भी व्यक्ति जो जनगणना के दिन अपने जन्म स्थान के अतिरिक्त
किसी अन्य स्थान पर गिना जाता है वह प्रवासी कहलाता है।
● दिक परिवर्तन (Commutation)-किसी नगर और उसके समीपवर्ती क्षेत्रों में लोगों का
दैनिक स्थानांतरण।
● फिजियोलोजिकल अथवा कायिक घनत्व (Physiological Density)-किसी देश या
प्रदेश की कुल जनसंख्या तथा वहाँ की कृषि योग्य भूमि के बीच अनुपात ।
पाठ के कुछ तथ्य
●विश्व की जनसंख्या का घनत्व.-47 व्यक्ति प्रति वर्ग किमी०
● एशिया में विश्व की जनसंख्या निवास करती है -60.07 प्रतिशत
●2004 की जनगणना के अनुसार चीन की जनसंख्या-130 करोड़
●2004 के आंकड़ों के अनुसार भारत की जनसंख्या-108.7 करोड़
●21वीं शताब्दी के आरंभ में विश्व की कुल जनसंख्या-6.0 अरब
●विश्व के दो क्षेत्र जहाँ घनी जनसंख्या का संकेन्द्रण तकनीकी विकास व औद्योगिक विकास
के कारण हुआ है -पश्चिमी यूरोप तथा संयुक्त राज्य अमेरिका के पूर्वी तट
●चीन व भारत के बाद विश्व का तीसरा सबसे अधिक जनसंख्या वाला देश तथा उसकी
कुल जनसंख्या-संयुक्त राज्य अमेरिका, 27.84 करोड़
●2004 में आस्ट्रेलिया की कुल जनसंख्या-2.1 करोड़
●रूस को छोड़कर यूरोप की कुल जनसंख्या-58.2 करोड़
●वह महाद्वीप जहाँ जनसंख्या वृद्धि दर विश्व के अन्य भागों की अपेक्षा सबसे अधिक है-अफ्रीका-वृद्धि दर 2.4%
●2.4% की दर से किस देश की जनसंख्या कितने वर्षों में दुगनी हो जाएगी-नाइजीरिया लगभग 25 वर्ष
●0.2% की वृद्धि दर से किस महाद्वीप की जनसंख्या कितने वर्षों में दुगनी हो जाएगी-यूरोप (रूस को छोड़कर), लगभग 318 वर्ष
●भारत में वर्तमान 1.7% की वृद्धि दर पर कितने वर्षों में जनसंख्या दुगनी हो जाएगी-41 वर्षों में
●वर्तमान में विकासशील विश्व में औसत मृत्यु दर -लगभग 9 व्यक्ति प्रति हजार
●विकसित देशों में औसत प्रजनन दर-1.5 प्रति स्त्री
एन. सी. ई. आर. टी. पाठ्यपुस्तक एवं कुछ अन्य परीक्षोपयोगी प्रश्न
अति लघु उत्तरीय प्रश्न ( Very Short Answer Type Question)
प्रश्न 1. जनसंख्या परिवर्तन के तीन घटक कौन-से हैं?
(What are the three components of population change ?)
उत्तर-(i) जन्म दर (Birth rate) (ii) मृत्यु दर (Death rate) (iii) प्रवास (Migration) |
प्रश्न 2. विश्व में उच्च जनसंख्या घनत्व वाले अनेक क्षेत्र हैं । ऐसा क्यों होता है ?
(There are a number of areas with high population density in the world.
Why does this happen?)
उत्तर-घनत्व के अधिक होने के कई कारण हैं जिनमें निम्न प्रमुख हैं-
(i) अपकर्ष कारक
(ii) प्रतिकर्ष कारक
(iii) जलवायु आदि।
प्रश्न 3. जनसंख्या के वितरण को प्रभावित करने वाले तीन भौगोलिक कारकों का
उल्लेख कीजिए।
(Name three Geographical factors that influence the distribution of population.)
उत्तर-(i) घरातल की बनावट, (ii) जलवायु, (iii) मृदा।
प्रश्न 4. विश्व की जनसंख्या 21वीं सदी के आरम्भ में कितनी थी?
(What was the world population at the dawn of twenty first century.)
उत्तर-600 करोड़।
प्रश्न 5. जनसंख्या वितरण का कौन-से कारक प्रभावित करते हैं ?
(What factors influence the distribution of Population ?)
उत्तर-जनसंख्या वितरण को प्रभावित करने वाले कारक निम्न हैं
(i) प्राकृतिक कारक (Natural factors)-इनमें धरातल की बनावट, जलवायु, मृदा,
वनस्पति, जल तथा खनिज पदार्थों की उपलब्धि सम्मिलित है।
(ii) सांस्कृतिक कारक (Cultural factors)-इनमें धर्म, भाषा, संस्कृति आदि सम्मिलित हैं।
(iii) आर्थिक कारक (Economic factors)-इनमें यातायात के साधन, उद्योग आदि
कारक सम्मिलित हैं।
(iv) राजनैतिक कारक (Population factors)-अशान्ति, युद्ध, गृह युद्ध आदि कारक हैं।
प्रश्न 6. जनसंख्या घनत्व किसे कहते हैं ?
(What is Population density ?)
उत्तर-किसी देश अथवा प्रदेश में जनसंख्या तथा क्षेत्रफल के बीच के अनुपात को जनसंख्या
घनत्व कहते हैं। इसे कुल जनसंख्या को कुल क्षेत्रफल से विभाजित कर प्राप्त करते हैं । इसे प्रति इकाई क्षेत्रफल में रहने वाले व्यक्तियों की औसत संख्या के आधार पर व्यक्त किया जाता है।
जैसे प्रति वर्ग कि.मी. क्षेत्र में रहने वाले व्यक्तियों की संख्या ।
घनत्व जनसंख्या =कुल जनसंख्या/कुल क्षेत्रफल
प्रश्न 7. विश्व में उच्च जनसंख्या घनत्व के प्रमुख चार क्षेत्र कौन-से हैं ?
(Which are the four major areas of high density of population in the
world ?)
उत्तर-विश्व में सघन जनसंख्या घनत्व के क्षेत्र निम्नलिखित हैं-
1. पूर्व एशिया (चीन, जापान, कोरिया एवं ताइवान)।
2. दक्षिण तथा दक्षिण पूर्व एशिया (भारत, बांग्लादेश, इण्डोनेशिया आदि)।
3. उत्तर-पश्चिमी यूरोप (यू. के., फ्रांस, जर्मनी, नीदरलैंड व इटली)।
4. उत्तर अमेरिका के पूर्वी तटीय प्रदेश ।
प्रश्न 8. जनसंख्या वृद्धि से क्या अभिप्राय है?
(What is population growth?)
उत्तर-जनसंख्या वृद्धि से अभिप्राय है एक निश्चित समय में निश्चित स्थान पर होने वाला
जनसंख्या सम्बन्धी परिवर्तन को दर्शाना है। इस परिवर्तन का प्रतिशत में व्यक्त किया जाता है।
इसे जन जनसंख्या वृद्धि की दर कहा जाता है। संसार को जनसंख्या की वर्तमान वृद्धि दर 1.4% है।
प्रश्न 9. जनसंख्या परिवर्तन के तीन घटकों के नाम बतायें ।
(Name the components of population change.)
उत्तर-(i) अशोधित जन्म दर (Crude birth rate)
(ii) अशोधित मृत्यु दर (Crude death rate)
(iii) प्रवास (Migration)
प्रश्न 10. विश्व जनसंख्या की वर्तमान वृद्धि दर क्या है ?
(What is the current growth rate of word population ?)
उत्तर-1.4%
प्रश्न 11. विश्व में निम्न जनसंख्या घनत्व के क्षेत्र कौन-कौन से हैं ?
(Which are the low density population areas of the world ?)
उत्तर-विश्व में जनसंख्या के घनत्व के निम्न क्षेत्र हैं-
(i) गर्म मरुस्थल-सहारा, कालाहारी, अटाकामा, आस्ट्रेलिया के पश्चिमी भाग ।
(ii) अत्यन्त ठंडे मरुस्थल-ध्रुवीय क्षेत्र (कनाडा के उत्तरी भाग, ग्रीन लैंड, उत्तरी
साइबेरिया, अंटार्कटिका)।
(iii) ठंडे मरुस्थल-मध्य एशिया के शुष्क भाग-गोबी मरुस्थल ।
(iv) विषुवतीय प्रदेश-दक्षिणी अमेरिका की अमेजन द्रोणी तथा अफ्रीका की जायरे द्रोणी ।
प्रश्न 12. संसार में जनसंख्या वितरण की किन्हीं पाँच विशेषताओं का वर्णन कीजिए।
(Describe any five characteristics of population distribution in the
world.)
उत्तर-संसार में जनसंख्या वितरण की पाँच विशेषताएँ है-
1. जनसंख्या का वितरण असमान है। चीन में सबसे अधिक तथा ओशिनिया में सबसे कम
जनसंख्या निवास करती है।
2. जनसंख्या का घनत्व भी असमान पाया जाता है।
3. नदी घाटियाँ तथा मैदानों में अधिक जनसंख्या निवास करती है।
4.ठंडे तथा गर्म मरुस्थलों में कम जनसंख्या निवास करती है।
5. कृषि और औद्योगिक क्षेत्रों में अधिक जनसंख्या निवास करती है।
प्रश्न 13. वर्तमान समय में विश्व जनसंख्या के गतिशील प्रतिरूप किस प्रकार की
जनांकिकीय प्रवृत्तियों को प्रतिबिम्बित करते हैं ? उदाहरण देकर समझाइए।
(At present how does the world population pattern represent the
demographic tendencies ? Explain with example.)
उत्तर-वर्तमान जनसंख्या प्रतिरूप गतिशील है। ये नई तथा पुरानी दोनों ही प्रकार की
जनांकिकीय प्रवृत्तियों को प्रतिबिम्बित करते हैं।
1. पुरानी जनांकिकीय प्रवृत्ति को प्रतिविम्बित करने का उदाहरण चीन और दक्षिण-पूर्व
एशिया की नदी घाटियाँ और डेल्टा क्षेत्र प्राचीनकाल से बहुत बड़ी जनसंख्या का भरण-पोषण
कर रहे हैं।
2. दूसरी ओर नई जनांकिकीय प्रवृत्तियाँ पश्चिमी यूरोप तथा उत्तर पूर्वी संयुक्त राज्य अमेरिका
में सघन जनसंख्या का कारण औद्योगिक क्रान्ति का आर्थिक विकास है जिसके कारण 19वीं
शताब्दी और 20वीं शताब्दी में वृहत स्तर पर प्रवास है।
3. वर्तमान समय में विकसित देशों की अपेक्षा विकासशील देशों में ग्रामीण क्षेत्रों से नगरों
की प्रवास होने से जनाकिकीय प्रवृत्ति में भारी परिवर्तन हो रहे हैं और नगरीय जनसंख्या तेजी से बढ़ रही है।
4. जनांकिकीय प्रवृत्ति की गतिशीलता का चौथा उदाहरण अफ्रीका तथा दक्षिणी अमेरिका
के देश हैं जहाँ मृत्यु दर में भारी कमी होने के कारण जनसंख्या तेजी से बढ़ रही है।
प्रश्न 14. लोग कुछ निश्चित प्रदेशों में क्यों रहना चाहते हैं और अन्य प्रदेशों में क्यों नहीं?
(Why do people prefer to live in certain regions and not in others ?)
उत्तर-कुछ प्रदेशों की जलवायु तथा अन्य रहने की परिस्थितियाँ अन्य प्रदेशों से अधिक
उपयुक्त होती है। इसलिए लोग अधिक उपयुक्त सुविधाओं के क्षेत्र में रहना पसंद करते हैं।
प्रश्न 15. फिर भी नगरीय जीवन अत्यंत कष्टदायक हो सकता है……….. नगरीय जीवन
के कुछ कष्टदायक पक्षों को सोचिए ।
(Yet city life can be very taxing…….. think of some of the unpleasant
aspect of city life.)
उत्तर-नगर का जीवन सुखदायी न होने के कई कारण हैं लेकिन उनमें स्वास्थ्य और सफाई
व्यवस्था महत्त्वपूर्ण है। नगर में अन्य समस्याओं के साथ प्रदूषण की समस्या से जीवन सुखदायी नहीं होता।
प्रश्न 16. क्या आप सोच सकते हैं कि लोग किन कारणों से प्रवास करते हैं ?
(Can you think of reasons why people migrate ?)
उत्तर-लोगों के प्रवास के कारण प्रतिकर्ष (push) कारक हैं। लोग रोजगार के लिए प्रवास
करते हैं।.
लघु उत्तरीय प्रश्न (ShortAnswer Type Question)
प्रश्न 1. जनसंख्या के अंकगणितीय एवं कायिक घनत्व में अंतर स्पष्ट कीजिए-
(Distinguish between arithmetic density and physiological density of
population.)
उत्तर-जनसंख्या के अंकगणितीय एवं कायिक घनत्व में अंतर :
अंकगणितीय घनत्व (Arithmatic Density)
1. किसी देश की कुल जनसंख्या तथा उसके क्षेत्रफल के अनुपात को वहाँ की जनसंख्या
का अंकगणितीय घनत्व कहते हैं।
अंकगणितीय घनत्व =जनसंख्या का घनत्व/कुल क्षेत्रफल
2. यह जनसंख्या के संकेन्द्रण की मात्रा को समझने का सबसे सरल तरीका है।
3. यद्यपि इस प्रकार के घनत्व द्वारा एक देश अथवा प्रदेश के भीतर जनसंख्या वितरण की
असमानताओं को अनदेखा कर दिया जाता है तथापि विभिन्न देशों की जनसंख्या विशेषताओं की तुलना करने की यह एक अच्छी विधि है।
4. संयुक्त राज्य अमेरिका का अंकगणितीय जनसंख्या का घनत्व 28 व्यक्ति प्रति वर्ग किमी.
है इसके विपरीत यूरोप का जनसंख्या घनत्व 104 प्रति वर्ग किमी. है व्यक्ति जो सं. रा. अमेरिका से चार गुना अधिक है।
5. इसमें त्रुटि यह है कि इसके द्वारा किसी देश के लोगों के जीवन स्तर का सही अनुमान
नहीं लगाया जा सकता।
कायिक घनत्व (Physiological Density)
1.किसी देश की कुल जनसंख्या तथा वहाँ की कुल कृषि भूमि के अनुपात को कायिक घनत्व
कहते हैं। इसमें से कृषि के लिए अयोग्य भूमि को कुल भूमि में से निकाल कर गणना की
जाती है।
कायिक घनत्व =कुल जनसंख्या/कुल वर्षा योग्य भूमि का क्षे.
2. देश की कुल जनसंख्या में कृषि के अयोग्य सभी भूमियों जैसे वन, चारागाह, दलदल,
मरुभूमि आदि को कुल भूमि में से निकाल कर गणना की जाती है।
3. उदाहरण के लिए भारत की कुल कृषि योग्य भूमि 14.26 लाख वर्ग किमी. है। इसमें
वन, मरुभूमि, दलदल आदि सम्मिलित नहीं है। भारत की कुल जनसंख्या 2001 में 10270 लाख थी। इस प्रकार कायिक घनत्व = 10270/14.26=720 मनुष्य प्रति वर्ग किमी. है।
4. यह घनत्व भारत, पाकिस्तान, बंग्लादेश आदि के लिए उपयोगी है, क्योंकि यह कृषि
की गहनता को प्रतिबिम्बित करता है। जनसंख्या बढ़ने पर प्रति व्यक्ति के हिस्से में आने वाली
भूमि घटती जाती है।
प्रश्न 2. जन्म दर तथा मृत्यु दर में अन्तर स्पष्ट कीजिए ।
(Distinguish between birth rate and death rate.)
उत्तर-जन्म दर तथा मृत्यु दर में अन्तर-
               जन्म दर (Birth rate)
1.एक वर्ष में जनसंख्या के प्रति एक हजार व्यक्तियों पर किसी देश में जन्मे जीवित बच्चों
की संख्या को जन्म दर कहते हैं।
2. जन्म दर की जानकारी किसी देश की जनसंख्या वृद्धि के अध्ययन के लिए बहुत
उपयोगी है।
3. यदि अशोधित जन्मदर अशोधित मृत्यु दर से अधिक हो तो जनसंख्या में शुद्ध वृद्धि
होती है।
4. जन्म दर में तीव्र गिरावट और मृत्यु दर में तीव्र वृद्धि होती है तो जीवन प्रत्याशा में गिरावट
आती है।
5. विकासशील देशों में अशोधित जन्म दर अधिक है और विकसित देशों में अपेक्षाकृत बहुत
कम है।
                मृत्यु दर (Death rate)
1. जनसंख्या के प्रति एक हजार व्यक्तियों पर किसी देश का क्षेत्र में मरने वाले लोगों की
संख्या को मृत्यु दर कहते हैं।
2. संयुक्त राष्ट्र संघ के अनुसार मृत्यु से तात्पर्य जन्म के बाद किसी भी समय जीवन के
सभी प्रमाणों का स्थायी रूप से लोंप हो जाना।
3. मृत्यु दर निम्न सूत्र से ज्ञात की जा सकती है-
अशोधित मृत्यु दर =मृत्यु संख्या/जनसंख्याx1000
4. उदाहरण के लिए किसी क्षेत्र की 5 लाख की जनसंख्या में मरने वालों की संख्या 5000
हो तो मृत्यु दर होगी-
5000/500000×1000 = 10
5. मृत्यु दर की गणना करते समय सारी संख्या को सम्मिलित किया जाता है। परन्तु
जनसंख्या के विभिन्न आयु वर्गों में मृत्यु दर में भिन्नता पाई जाती है। इसलिए इसे मृत्यु दर
कहते हैं।
प्रश्न 3. जनसंख्या घनत्व के मापन की कायिक विधि अधिक उत्तम क्यों है ? तीन
उदाहरणों सहित व्याख्या कीजिए।
(Why is the method of physiological density better than the other?
Explain with examples.)
उत्तर-इस विधि में कुल क्षेत्रफल की जगह कुल कृषि योग्य भूमि या फसल क्षेत्र में जनसंख्या
को विभाजित किया जाता है अर्थात् यह कुल जनसंख्या और कुल कृषि क्षेत्र के बीच अनुपात है।
कायिक विधि में कृषि के अयोग्य सभी भूमियों जैसे वन, चरागाह, दलदल तथा मरुभूमि
आदि को कुल भूमि में से घटाकर गणना की जाती है। यह विधि कृषि प्रधान देशों जैसे भारत,.
पाकिस्तान, बंग्लादेश आदि के लिए उपयोगी है क्योंकि यह कृषि की गहनता को प्रतिबिम्बित करता है। इन देशों में जैसे जनसंख्या में वृद्धि होती है कृषि भूमि पर ही  होने का समय घटता जा रहा है।
विश्व में विभिन्न देशों की जनसंख्या वृद्धि दर एक जैसी नहीं है। विश्व में 71 देशों में
जनसंख्या वृद्धि दर 2 व 2.9% है। इन देशों की जनसंख्या 24 से 35 वर्ष के बीच दुगनी हो
जाने की संभावना है। अन्य 14 देश जिनकी वृद्धि दर 3 व 4.4% के बीच है उनकी जनसंख्या
16 से 23 वर्ष के बीच में दुगनी हो जाएगी। अफ्रीका में अस्वास्थ्यकर दशाओं व बीमारियों तथा एशिया में एड्स के फैलाव से जनसंख्या वृद्धि दर में कमी आने की संभावना है।
प्रश्न 5. प्रवास के प्रतिकर्ष कारक और अपकर्ष कारक में अंतर स्पष्ट कीजिए।
(Distinguish between push factors & pull factors of migration.)
उत्तर-प्रतिकर्ष घटक तथा अपकर्ष घटकों में अंतर-
                प्रतिकर्ष कारक (Push Factors)
1. प्रतिकर्ष कारक भी स्थानान्तरण के लिए उत्तर-दायी होते हैं। बेरोजगारी, आजीविका के
साधनों की कमी, कृषि से कम उत्पादन आदि के कारण भुखमरी आदि प्रमुख प्रतिकर्ष कारक है।
2. ग्रामीण क्षेत्रों में कृषि पर बढ़ती जनसंख्या के दबाव के कारण जीविकोपार्जन के साधनों
की कमी के कारण लोग अच्छे स्थानों की ओर प्रवास करते हैं
3. गाँव में आजीविका प्राप्त नहीं कर पाने वाली जनसंख्या को गणना अधिशेष जनसंख्या
के रूप में की जाती है। यह जनसंख्या नगरों की ओर प्रवास करती है।
                अपकर्ष कारक (Pull Factors)
1. अपकर्ष कारक वह स्वैच्छिक प्रवास है जग लोग तारों को सुविधाओं, आजीविका के
बेहतर साधनों से प्रेरित होकर प्रवास करते हैं।
2. नगरों में अच्छे आर्थिक अवसरों, शिक्षा तथा मनोरंजनों के साधनों के कारण लोग
चुम्बक की तरह आकर्षित होते हैं।
3. नगरों में उद्योग, परिवहन, संचार, व्यापार तथा वाणिज्य आदि की बेहतर सुविधायें लोगों
को प्रवास के लिए प्रेरित करती हैं
प्रश्न 6. संसार में जनसंख्या के निम्न घनत्व वाले पाँच विभिन्न प्रकार के क्षेत्रों का संक्षेप
में वर्णन कीजिए।
(Describe in brief five different types of areas of low density of population in the world.)
उत्तर-निम्न जनसंख्या घनत्व के क्षेत्र-1. गर्म मरुस्थल (Hot deserts)-इन क्षेत्रों में वर्षा
के अभाव के साथ ही जहाँ सिंचाई की व्यवस्था असंभव है वहाँ अत्यन्त विरल जनसंख्या पाई
जाती है। ये क्षेत्र हैं-कालाहारी तथा सहारा, मरुस्थल (अफ्रीका), पश्चिमी आस्ट्रेलिया, अटाकामा अरब व थार आदि मरुस्थल ।
2. अति शीत क्षेत्र (Extremely cold areas)-ध्रुवीय क्षेत्रों के समीपवर्ती क्षेत्र जिनमें
कनाडा के उत्तरी भाग, ग्रीनलैंड, साइबेरिया का उत्तरी भाग आदि तथा दक्षिण ध्रुव के चारों ओर फैला क्षेत्र अत्यन्त विरल जनसंख्या वाला क्षेत्र है। इन क्षेत्रों में लम्बे समय तक हिमपात होता रहता है इसलिए यहाँ किसी प्रकार की फसल नहीं पैदा होती।
3. शीतोष्ण मरुस्थल (Temperate desers)-इन क्षेत्रों में मध्य एशिया के मरुस्थलीय
भाग जैसे गोबी का मरुस्थल प्रमुख है। अति विषम जलवायु होने के कारण यहाँ कम जनसंख्या पाई जाती है।
4. अति आर्द्र व उष्ण क्षेत्र (Hot and lumid areas)-इनमें भूमध्यरेखीय क्षेत्र सम्मिलित
हैं। इन क्षेत्रों में अधिक तापमान तथा अत्यधिक वर्षा से सघन वन पाए जाते हैं। इसलिए कृषि
करना कठिन है। जलवायु भी अस्थ्यकर है। इसलिए विरल जनसंख्या पाई जाती है।
5. पर्वतीय क्षेत्र (Mountainous Areas) विश्व में पर्वतीय क्षेत्रों में भी कम जनसंख्या
पाई जाती है क्योंकि यहाँ का धरातल ऊबड़-खाबड़ होता है तथा कठोर जलवायु होती है। इसलिए जनसंख्या कम पाई जाती है।
प्रश्न 7.प्रतिकर्ष कारक किस प्रकार लोगों को एक प्रदेश से दूसरे प्रदेश को प्रवास के
लिए बाध्य करते हैं ? तीन उदाहरण देते हुए व्याख्या कीजिए।
(How do the push factors compel the people to migrate from one region to another region? Explain with example.)
उत्तर-प्रतिकर्य कारक (Push factors)-
1. बेरोजगारी (Unemployment)-रोजगार के अभाव वाले क्षेत्रों से लोग नगरों और
औद्योगिक नगरों की ओर रोजगार पाने के लिए प्रवास करते हैं।
2. कृषक वर्ग की गरीबी Poverty of farmers)-छोटी जोत वाला किसान साधनों के
अभाव में आवश्यक उपज नहीं ले पाता है। अतः अपने और अपने परिवार के भरण-पोषण के
लिए रोजगार की तलाश में नगर की ओर प्रवास करने के लिए विवश हो जाता है।
3. जनसंख्या का भारी दबाव (Pressure of Population)-भारी जनसंख्या का दबाव
संसाधनों पर पड़ता है। संसाधनों पर बढ़ते दबाव से छुटकारा पाने के लिए भी कुछ लोग प्रवास के लिए बाध्य होते हैं। राजनीतिक अस्थिरता और आतंकवाद भी लोगों को प्रवास के लिए विवश कर देता है।
प्रश्न 8. किसी देश की जनसंख्या तीव्र गति से बढ़ने पर वहाँ के आर्थिक विकास पर
क्या प्रभाव पड़ता है?
(What are the effects on the economic development if the population of a country increase rapidly ?)
उत्तर-जनसंख्या की तीव्र वृद्धि के कारण अनेक प्रकार की आर्थिक और सामाजिक
समस्यायें उत्पन्न हो जाती हैं-
1. भोजन की समस्या (Food Problems)-तीव्र गति से जनसंख्या की वृद्धि के कारण
भोजन पदार्थों की आवश्यकता की पूर्ति कठिन हो जाती है।
2.आवास की समस्या (Housing Problems)-बढ़ती जनसंख्या के कारण निवास स्थानों
की कमी होती जा रही है। लाखों लोग झुग्गी तथा झोंपड़ी में निवास करते हैं
3. बेरोजगारी (Unemployment)-जनसंख्या वृद्धि के कारण बेकारी एक गम्भीर समस्या
के रूप में उभर कर सामने आई है। आर्थिक विकास कम हो जाने से रोजगार के अवसर कम
हो जाते हैं और बेरोजगारों की संख्या बढ़ जाती है।
4. निम्न जीवन स्तर (Low standard of living)-अधिक जनसंख्या के कारण प्रति
व्यक्ति आय कम हो जाती है, इसलिए जीवन स्तर गिर जाता है।
5.जनसंख्या का कृषि पर अधिक दबाव (Pressure of Population onland)-बढ़ती
जनसंख्या को खाद्यान्नों की पूर्ति करने के लिए कृषि योग्य भूमि पर दबाव बढ़ जाता है।
6. बचत में कमी (Less savings)-जनसंख्या वृद्धि के कारण कीमतें बढ़ जाती है तथा
बचत कम होती है। लोगों को शिक्षा व चिकित्सा सुविधायें बहुत कम प्राप्त होती हैं।
7. स्वास्थ्य (Health)-नगरों में गंदगी बढ़ जाती है। स्वास्थ्य और सफाई का स्तर नीचे
गिर जाता है।
प्रश्न 9. प्रवास के विभिन्न प्रकार तथा प्रारूपों का वर्गीकरण कीजिए।
(Classify the patterns and types of migration)
उत्तर-प्रवास के अनेक आधार हैं; जैसे-
(क) गन्तव्य स्थान के आधार पर (On the basis of destination)-
(i) ग्राम से नगर की ओर । (ii) ग्राम से ग्राम की ओर ।
(iii) नगर से ग्राम की ओर। (iv) नगर से नगर की ओर।
– ग्राम से नगर की ओर रोजगार, शिक्षा आदि के लिए लोग प्रवास करते है।
-ग्राम से ग्राम की ओर प्रवास का कारण विवाह है।
-नगरीय क्षेत्रों से ग्रामों की ओर प्रवास करने वाले व्यक्तियों की संख्या अपेक्षाकृत बहुत
कम होती है।
-लोग छोटे नगरों से बड़े नगरों की ओर प्रवास करते है। वहाँ उन्हें अपेक्षाकृत अच्छी
सुविधायें मिलती हैं।
(ख) समय के अनुसार प्रवास के प्रकार (Types on the basis of rinc)-
(i) अस्थायी प्रवास (Temporary Migration) अस्थायी प्रवास के कई रूप होते हैं, जैसे
ऋतुनिष्ठ प्रवास : इसमें श्रमिक कृषि ऋतु में, खेती की मांग को पूरा करने के लिए दूसरे राज्य
में जाते हैं। जैसे-बिहार से श्रमिक पंजाब की ओर जाते हैं।
(ii) आवधिक प्रवास (Periodic Migration) -अनेक कामगार अपने स्थायी आवास को
छोड़कर कुछ वर्षों के लिए प्रवास करते हैं।
(iii) मध्यस्तर अस्थायी प्रवास (Middle Stage Temporary Migration)-यह विकसित
समाजों में पाया जाता है जहाँ उच्चवर्गीय समाज दो महानगरों के बीच एक ऋतु के लिए प्रवास करता है।
(iv) स्थायी प्रवास (Permanent Migration)-जब लोग अपने मूल निवास को छोड़कर
परिवार सहित दूसरे स्थान पर जाकर बस जाते हैं। यह स्थिति स्थायी प्रवास की होती है।
प्रश्न 10. जनसंख्या का घनत्व किसे कहते हैं ? संसार के कुछ क्षेत्रों में उच्च जनसंख्या
घनत्व तो दूसरे क्षेत्रों में जनसंख्या बहुत कम क्यों है ? उपयुक्त उदाहरणों सहित प्रत्येक के
दो प्रमुख कारणों की व्याख्या कीजिए।
(What is the density of population ? Why have some areas in the world
high density of population whereas other have very low density ? Explain two main reasons with suitable examples.)
उत्तर-जनसंख्या घनत्व (Density of Population)-किसी क्षेत्र की कुल जनसंख्या और
उसके कुल क्षेत्रफल के अनुपात को उस क्षेत्र की जनसंख्या का घनत्व कहते हैं। इसे अंकगणितीय घनत्व भी कहा जाता है। इसे निम्नांकित रूप से व्यक्त किया जा सकता है-
जनसंख्या का घनत्व =जनसंख्या/कुल क्षेत्रफल।
संसार के कुछ क्षेत्रों में जनसंख्या अधिक पाई जाती है तो कुछ क्षेत्रों में जन घनत्व कम
है। इसके निम्नलिखित कारक हैं-
भौतिक कारक (Physical Factors)-इसके अन्तर्गत उच्चावच, जलवायु, मिट्टी आदि
सम्मिलित हैं।
(i) उच्चावच (Relief)-कठोर संरचना के कारण पर्वत और पहाड़ मानव विकास के लिए
अनुपयुक्त होते हैं। उनके द्वारा कृषि आदि कार्यों में बाधा उत्पन्न होती है। इसलिए ये विरल
जनसंख्या वाले भाग होते हैं । तिब्बत का पठार, हिमालय, राकी आदि प्रदेश इसके उदाहरण हैं।
(ii) जलवायु (Climate)-जलवायु जनसंख्या के घनत्व को ऊँचा-नीचा करने में महत्त्वपूर्ण
भूमिका निभाती है। अति आर्द्र अथवा गर्म या ठंडे क्षेत्रों में कम जनसंख्या निवास करती है।
जिन प्रदेशों की जलवायु मध्यम और सामान्य जैसे शीतोष्ण जलवायु वाले भाग इनमें जनसंख्या अधिक निवास करती है क्योंकि इनमें उद्योग तथा कृषि आदि संभव होती है। जैसे बेल्जियम, हालैंड, डेनमार्क आदि यूरोपीय देश ।
इसके अतिरिक्त मृदा, प्राकृतिक वनस्पति, शक्ति के साधन तथा अन्य आर्थिक कारक भी
जनसंख्या घनत्व को प्रभावित करते हैं।
दीर्घ उत्तरीय प्रश्न (Long Answer Type Question)
प्रश्न 1. विश्व में जनसंख्या वितरण और घनत्व को प्रभावित करने वाले कारकों की
विवेचना जीजिए।
(Discuss the factors influencing the distribution and density of popula-
tion in the world.)
उत्तर-लोग ऐसे स्थानों पर बसना चाहते हैं जहाँ उन्हें भोजन, पानी, घर बसाने के लिए
उपयुक्त स्थान मिल जाए । जनसंख्या के वितरण को निम्न कारक सम्मिलित रूप से प्रभावित करते हैं। इनको निम्न वर्षों में विभाजित किया जा सकता है-
(i) प्राकृतिक कारक,
(ii) आर्थिक कारक,
(iii) सांस्कृतिक कारक,
(iv) राजनैतिक कारक।
प्राकृतिक कारक (Physiological factors) :
(i) उच्चावच (Relief)-पर्वतीय, पठारी अथवा ऊबड़-खाबड़ प्रदेशों में कम लोग रहते हैं
जवकि मैदानी क्षेत्रों में लोगों का निवास अधिक होता है क्योंकि इन क्षेत्रों में भूमि उर्वरा होती है
और कृषि की जा सकती है। यही कारण है कि नदी घाटियाँ जैसे गंगा, ब्रह्मपुत्र, हांग-हो आदि
की घाटियाँ अधिक घनी बसी हैं।
(ii) जलवायु (Climate)-अत्यधिक गर्म या अत्यधिक ठंडे भागों में कम जनसंख्या निवास
करती है। ये विरल जनसंख्या वाले क्षेत्र हैं। इसके विपरीत शीतोष्ण जलवायु तथा मानसूनी प्रदेशों में अधिक जनसंख्या निवास करती है।
(iii) मृदा (Soil)-जनसंख्या के वितरण पर मृदा की उर्वरा शक्ति का बहुत प्रभाव पड़ता
है। उपजाऊ मिट्टी वाले क्षेत्रों में खाद्यान्न तथा अन्य फसलें अधिक पैदा की जाती हैं तथा प्रति
हैक्टेयर उपज अधिक होती है। इसलिए नदी घाटियों को उपजाऊ मिट्टी वाले क्षेत्र अधिक घने
बसे हैं।
(iv) खनिज पदार्थ (Minerals)-विषम जलवायु होने पर भी उपयोगी खनिजों की
उपलब्धि से लोग वहाँ बसने लगते हैं। उदाहरण के लिए, सउदी अरब के भीषण गर्मी वाले क्षेत्र
में खनिज तेल के मिल जाने से अधिक घने बसे हैं। कालगूर्जी और कूलगर्जी की गर्म जलवायु
में सोने की प्राप्ति तथा अलास्का में तेल कुओं की उपलब्धता के कारण वहाँ अधिक लोग रहते हैं।
(v) वनस्पति (Vegetation)-अधिक घने वनों के कारण भी जनसंख्या अधिक नहीं पाई
जाती है। लेकिन कोणधारी वनों की आर्थिक उपयोगिता अधिक है। इसलिए लोग उन्हें काटने
के लिए वहाँ बसते हैं।
आर्थिक कारक (Economic factors):
(i) परिवहन का विकास (Development of means of transport)-परिवहन के
साधनों के विकास से लोग दूर के क्षेत्रों में भी जाकर बस गए हैं। परिवहन केन्द्रों पर आर्थिक
क्रियायें बढ़ने से रोजगार के अवसर बढ़ जाते हैं। अतः लोग वहाँ बसने लगते हैं।
(ii) अत्यधिक नगरीकरण (Urbanisation)-नगरों में रोजगार के अवसर बढ़ जाने से
ग्रामीण क्षेत्रों के लोग उद्योगों में रोजगार तथा शिक्षा के लिए आकर बस जाते हैं। शंघाई, मुम्बई, न्यूयार्क आदि महानगर इनके उदाहरण हैं। नगरों में जनसंख्या का संकेन्द्रण उनकी सुविधाओं के कारण अधिक होता है।
सांस्कृतिक कारक (Cultural factors):
प्रौद्योगिकी में विकास (Development in Technology)-यह सांस्कृतिक कारक है।
कुछ देशों में प्रौद्योगिकी के विकास के आधार पर आवश्यक वस्तुओं का उत्पादन बढ़ा लिया है। अतः ऐसे देशों में अधिक जनसंख्या के पोषण की क्षमता होती है।
धार्मिक कारक (Religious factors)-धार्मिक कारणों से लोग अपना देश छोड़ने को
मजबूर हो जाते हैं। दूसरे विश्व युद्ध के दौरान यहूदियों को यूरोप छोड़कर रेगिस्तानी क्षेत्र में नया देश इजरायल बसाना पड़ा था। इसी प्रकार दक्षिण अफ्रीका में रंगभेद नीति के कारण जनसंख्या का वितरण प्रभावित हुआ है।
राजनैतिक कारक (Political factors)-किसी देश में गृह युद्ध, अशान्ति आदि के कारण
भी जनसंख्या वितरण पर प्रभाव पड़ता है। उदाहरण के लिए, फारम की खाड़ी का युद्ध, श्रीलंका में जातीय संघर्ष आदि के कारण जनसंख्या का पलायन हुआ।
प्रश्न 2. जनांकिकीय संक्रमण की तीन अवस्थाओं की विवेचना कीजिए।
(Discuss the three stages of demographic transition.)
उत्तर-जनांकिकीय संक्रमण सिद्धांत से किसी क्षेत्र में भविष्य में जनसंख्या के बारे में ज्ञात
हो सकता है। सिद्धांत बताता है कि किसी प्रदेश की जनसंख्या में परिवर्तन समय के अनुसार
ग्रामीण कृषिय और निरक्षर जनसंख्या के नगरीय औद्योगिक समाज की ओर हो रहा है, जो उच्च जन्म दर और उच्च मृत्यु दर से कम जन्म दर और कम मृत्यु दर की ओर में परिवर्तन निम्न अवस्थाओं में होता है। इसे जनांकिकीय चक्र भी कहते हैं।
ये तीन अवस्थायें है:
प्रधम अवस्था (First Stage)-प्रथम अवस्था में उच्च जन्म दर और उच्च मृत्यु दर होती
है। जनसंख्या वृद्धि धीमी होती है और लोग अधिकतर प्राथमिक व्यवसाय में लगे होते हैं। जीवन प्रत्याशा कम, जनसंख्या में निरक्षरता अधिक और तकनीकी स्तर कम होता है। 4200 वर्ष पहले विश्व इसी अवस्था में था।
द्वितीय अवस्था (Second.stage)-इस अवस्था में प्रारंभ में उच्च जन्म दर में कमी होने
लगती है। मृत्यु दर में भी कमी आ जाती है। इस कारण जनसंख्या वृद्धि भी कम होने
लगती है।
तीसरी अवस्था (Third Stage)-इस अवस्था में जन्म दर तथा मृत्यु दर बहुत कम हो
जाती है। लगभग समानता आ जाती है। जनसंख्या या तो स्थिर हो जाती है अथवा बहुत कम
वृद्धि होती है।
प्रश्न 3. व्याख्या कीजिए कि विगत कुछ सौ वर्षों से जनसंख्या वृद्धि तीव्र क्यों हो रही है ?
(Explain why the population growth has been rapid in last few hundred
years.)
उत्तर-मानव इतिहास में आरम्भिक समय में जनसंख्या की वृद्धि बहुत धीमी थी। भोजन
की कमी, प्रतिकूल पर्यावरण तथा बीमारियों के कारण मृत्युदर बहुत ऊँची थी। जनसंख्या या तो स्थिर रही या महामारियों और भुखमरी के कारण घटती रही।
सोलहवीं तथा सत्रहवीं शताब्दी में विश्व जनसंख्या में तेजी से वृद्धि होनी आरंभ हुई। इसका
मुख्य कारण यूरोप के देशों से विश्व के अन्य भागों में व्यापार का विस्तार था।
1750 के बाद यूरोप में औद्योगिक क्रांति का सूत्रपात हुआ। उस समय विश्व की जनसंख्या
लगभग 70 करोड़ थी। यह अगले 50 वर्षों में बढ़कर 90 करोड़ हो गई। यद्यपि यह पहले की
अपेक्षा अधिक तीव्र थी। इस समय यूरोप में उद्योग और व्यापार में विकास हुआ तथा औद्योगिक उत्पादन में वृद्धि हुई। 1800 से 1850 के बीच जनसंख्या 90 करोड़ से बढ़कर 130 करोड़ हो गई अर्थात् 40 करोड़ की वृद्धि हुई।
इस समय मृत्यु दर में गिरावट आरंभ हो गई थी। कई बीमारियों जैसे चेचक आदि पर
नियंत्रण पा लिया गया था। इसके बाद जनसंख्या में तीव्रता से वृद्धि हुई। इसके कुछ कारण
निम्न हैं-
1. भाप के इंजन के आविष्कार का विकास-इस प्रौद्योगिकी के कारण कृषि और औद्योगिक उत्पादन में वृद्धि हुई ।
2. वैज्ञानिक तथा प्रौद्योगिक विकास के कारण अनेक देशों में आर्थिक सम्पन्नता आई जिससे
लोगों के जीवन स्तर में सुधार हुआ ।
3. इस अवधि में चिकित्सा सुविधाओं में क्रान्तिकारी सुधार हुआ।
4. कई भयंकर बीमारियों के टीकों के आविष्कार होने से मौतों में कमी आई और मृत्यु दर
घटी जो निम्न तालिका से स्पष्ट है-
प्रश्न 4. जनसंख्या वृद्धि और हास के परिणामों को समझायें।
(Discuss the consequences of population growth and decline.)
उत्तर-किसी देश की जनसंख्या की वृद्धि वहाँ के आर्थिक विकास पर धनात्मक और
ऋणात्मक दोनों प्रकार के प्रभाव डालती है। यह प्रभाव धनात्मक होगा या ऋणात्मक इस बात पर निर्भर करता है कि वह देश जनसांख्यिकीय संक्रमण की किस अवस्था में है।
यदि किसी देश में जनसंख्या वृद्धि की दर निम्न है तो राष्ट्रीय आय में वृद्धि की संभावना
बढ़ जाती है। प्रति व्यक्ति आय भी अधिक होती है। अत: देश के संसाधनों का दोहन किया
जा सकता है। व्यक्तियों के रहन-सहन का स्तर अच्छा होता है। उस देश में शिक्षा, स्वास्थ्य,
संचार, व्यापार आदि की सुविधाओं का विकास होता है। इस प्रकार देश के विकास की गति
बढ़ जाती है।
परंतु यदि किसी देश में जनसंख्या वृद्धि दर तीव्र है तो राष्ट्रीय आय में वृद्धि की संभावनाएँ
कम हो जाती हैं। राष्ट्रीय आय नहीं बढ़ती तो प्रति व्यक्ति आय भी कम हो जाती है। कम आय
से रहन-सहन का स्तर गिरता है । वस्तुओं तथा सेवाओं की मांग भी कम हो जाती है। जनसंख्या वृद्धि के परिणाम निम्नलिखित हैं-
(i) शुद्ध पेय जल में निरन्तर कमी होना तथा कई स्थानों पर यह दुर्लभ वस्तु होना ।
(ii) बढ़ती जनसंख्या के दबाव के कारण जंगल समाप्त होते जा रहे हैं।
(iii) मृदा अपरदन बढ़ता जा रहा है।
(iv) मछली पालन का अति शोषण हो रहा है
जनसंख्या वृद्धि के कारण विकास का पूर्ण लाभ प्राप्त नहीं हुआ।
जनसंख्या ह्रास के परिणाम
(i) देश के संसाधनों का पूर्ण उपयोग नहीं होता ।
(ii) यदि जनसंख्या में वृद्धि का क्रम दोबारा आरम्भ करने में प्रयत्न नहीं किए गए तो उस
समाज की आधारभूत संरचना स्वयं ही अस्थिर हो सकती है।
(iii) जनसंख्या के हास से संसाधनों का विकास कम होता है।
प्रश्न 5. संसार में जनसंख्या वृद्धि के लिए उत्तरदायी तीन कारकों की व्याख्या कीजिए।
विकसित देशों में जनसंख्या वृद्धि की प्रवृत्ति विकासशील देशों से किस प्रकार भिन्न है ?
(Explain three factors responsible for causing population growth in the
world. How is the trend in population growth of developed countries different from that of developing countries.)
उत्तर-जनसंख्या वृद्धि के लिए उत्तरदायी कारक निम्नलिखित हैं-
1.जन्म दर (Birth rate), 2. मृत्यु दर (Death rate), 3. प्रवास (Migration) |
विकसित देशों में जनसंख्या वृद्धि की प्रवृत्ति विकासशील देशों से भिन्न है। विकसित देशों
में जन्म दर एवं मृत्यु दर पर नियंत्रण कर लिया गया है। इसलिए इन विकसित देशों रूस,
आस्ट्रिया, फ्रांस, यू.के. आदि में वृद्धि दर कम है, परंतु विकासशील देशों में वृद्धि दर अधिक
है क्योंकि इन देशों में मृत्यु दर पर तो नियंत्रण कर लिया गया है, लेकिन जन्म दर पर नियंत्रण
नहीं हो पाया । ये विकासशील देश हैं-भारत, पाकिस्तान, अफगानिस्तान, सउदी अरब, लीबिया, कीनिया और जार्डन आदि । विकासशील देशों में जनसंख्या के दुगने होने में 23 वर्ष से भी कम लगते हैं जबकि विकसित देशों में 200 वर्ष से भी अधिक समय लग सकता हैं।
प्रश्न 6. किस महाद्वीप में जनसंख्या की वार्षिक वृद्धि दर सबसे अधिक है ? जनसंख्या
वृद्धि के लिए उत्तरदायी तीन मूलभूत घटक कौन-से हैं ? प्रत्येक घटक का संक्षेप में वर्णन
कीजिए।
(Which continent has the highest growth rate of population ? Which are
the three basic components responsible for population growth ? Describe each component in brief.)
उत्तर-अफ्रीका में जनसंख्या की वार्षिक वृद्धि सबसे अधिक है।
जनसंख्या वृद्धि के लिए निम्नलिखित तीन कारक उत्तरदायी हैं-
(i) जन्म दर (Birth Rate)-जनसंख्या के प्रति एक हजार व्यक्तियों पर किसी देश या क्षेत्र
में जन्मे जीवित बच्चों की संख्या को जन्म दर कहते हैं।
(ii) मृत्यु दर (Death Rate)-जनसंख्या के प्रति एक हजार व्यक्तियों पर किसी देश या
क्षेत्र में मरने वाले लोगों की संख्या को मृत्यु दर कहते हैं।
(iii) प्रवास (Migration)-एक स्थान से दूसरे स्थान पर जनसंख्या के स्थानांतरण को
प्रवास कहते हैं। यदि किसी देश में जन्मदर तथा मृत्यु दर में अधिक अंतर है तथा वहाँ प्रवास
भी अधिक है तो जनसंख्या वृद्धि भी अधिक होगी।
प्रश्न 7. जनसंख्या वितरण के प्रतिरूप एवं प्रवृत्तियों का विभिन्न देशों की जनसंख्या
के आकार के संदर्भ में विश्लेषण कीजिए।
(Analyse the pattern and tendencies of distribution of population in the
context of size of the population of different countries.)
उत्तर-जनसंख्या के विवरण को निर्धारण भौतिक पर्यावरण तथा ऐतिहासिक कारकों पर
निर्भर करता है। विश्व की 75% जनसंख्या 25% भाग पर केन्द्रित है।
विश्लेषण (Analysis)-विभिन्न देशों की जनसंख्या के आकार से वहाँ की जनसंख्या की
प्रवृत्तियों तथा प्रतिरूपों को आसानी से समझ सकते हैं। विश्व में जनसंख्या का वितरण असमान है। विश्व की कुल जनसंख्या का 60% भाग विश्व के 10 सबसे अधिक जनसंख्या वाले देशों में पाया जाता है। निम्न तालिका इन देशों को दर्शाती है-
उपरोक्त तालिका का अध्ययन करने पर निम्नलिखित तथ्य सामने आती हैं-
1. विश्व की कुल जनसंख्या का लगभग 38% एशिया के दो देशों-चीन तथा भारत
में रहता है।
2. विश्व के दस सबसे अधिक जनसंख्या वाले देशों में छ: देश एशिया में हैं।
3.सं. रा. अमेरिका विश्व का तीसरा सबसे अधिक जनसंख्या वाला देश है लेकिन भारत
और संयुक्त राज्य अमेरिका की जनसंख्या में बहुत अन्तर है। भारत की जनसंख्या संयुक्त राज्य अमेरिका की जनसंख्या से तीन गुना अधिक है।
4. इन देशों में यूरोप का कोई भी देश नहीं है।
विश्व के छ: व्यक्तियों में से एक भारतीय तथा विश्व के पाँच 5 व्यक्तियों में से एक व्यक्ति
चीन का होता है।
उपरोक्त विश्लेषण से यह ज्ञात होता है कि विश्व की कुल जनसंख्या का 60% भाग इन
दस देशों में रहता है। शेष 40% भाग जनसंख्या अन्य देशों में निवास करती है।
प्रश्न 7. निम्न दंड आरेख का अध्ययन कीजिए तथा दिए गए प्रश्नों के उत्तर दें।
(i) उस महाद्वीप का नाम बतायें जिसमें अशोधित जन्म दर सबसे अधिक है।
(ii) उच्च अशोधित जन्म दर के लिए उत्तरदायी दो कारक बताइए।
(iii) किस महाद्वीप में जनसंख्या वृद्धि दर ऋणात्मक है?
(iv) इस महाद्वीप में ऋणात्मक वृद्धि दर का क्या कारण है ?
उत्तर-(i) अफ्रीका महाद्वीप मे अशोधित जन्म दर सबसे अधिक है।
(ii) कृषि अर्थव्यवस्था, आर्थिक पिछड़ापन, सामाजिक व सांस्कृतिक परम्परायें, अशिक्षा व
अंधविश्वास इसके मुख्य कारक हैं।
(iii) यूरोप के कुछ देशों में ऋणात्मक जनसंख्या वृद्धि दर्ज की है।
(iv) जन्म दर में निरन्तर कमी तथा मृत्यु दर अपेक्षाकृत अधिक । शिक्षा का प्रसार, उच्च
रहन-सहन का स्तर बनाए रखने के लिए निम्न प्रजनन दर को प्रोत्साहन के कारण जनसंख्या
घटती है।
प्रश्न 8. संसार में जनसंख्या वृद्धि की विभिन्न प्रवृत्तियों का उपयुक्त उदाहरण देते हुए
संक्षेप में वर्णन करो।
(Describe in brief the different trends of population growth in the world.
Giving suitable example.)
उत्तर-प्रारंभ में जनसंख्या वृद्धि की दर बहुत कम थी। प्रथम शताब्दी में कुल जनसंख्या
केवल 50 मिलियन थी। 16वीं तथा 17वीं शताब्दी में जनसंख्या बढ़ने लगी। व्यापार तथा
औधोगिक क्रांति में यह तेजी से बढ़ी। 1750 में विश्व की जनसंख्या केवल 0.5 बिलियन थी।
औद्योगिक विकास ने कृषि और आर्थिक विकास को बढ़ाया। विज्ञान ने मृत्यु दर को काफी कम कर दिया। मनुष्य महामारियों के प्रति सजग हो गया । विकासशील देशों में वृद्धि दर 1 प्रतिशत तक हो गई। यह अनुमान है कि 2010 तक जनसंख्या 6-8 बिलियन तथा 2025 तक 10 विलियन हो जाएगी। अगले 25 वर्षों में विश्व जनसंख्या में वृद्धि का 98% भाग विकासशील देशों में होगा।
वर्तमान समय में विकसित देशों में कुल जनसंख्या का 20% भाग है परंतु 2025 तक यह भाग केवल 15% रह जाएगा।
वस्तुनिष्ठ प्रश्न (ObjectiveAnswer Type Question)
नीचे दिए गए चार विकल्पों से सही उत्तर चुनिए-
(Choose the right answer of the four alternative given below)
प्रश्न 1. निम्नलिखित में से किस महाद्वीप में जनसंख्या वृद्धि सर्वाधिक है ?
(A) अफ्रीका
(B) एशिया
(C) दक्षिण अमेरिका
(D) उत्तर अमेरिका।
प्रश्न 2. निम्नलिखित में से कौन-सा एक विरल जनसंख्या वाला क्षेत्र नहीं है ?
(A) अटाकामा
(B) भूमध्यरेखीय प्रदेश
(C) दक्षिण-पूर्वी एशिया
(D) ध्रुवीय प्रदेश।
प्रश्न 3. निम्नलिखित में से कौन-सा एक प्रतिकर्ष कारक नहीं है?
(A) जलाभाव
(B) बेरोजगारी
(C) चिकित्सा/शैक्षणिक सुविधाएँ
(D) महामारियाँ।
प्रश्न 4. निम्नलिखित में से कौन-सा एक तथ्य नहीं है?
(A) विगत 500 वर्षों में मानव जनसंख्या 10 गुणा से अधिक बढ़ी है।
(B) विश्व जनसंख्या में प्रतिवर्ष 8 करोड़ लोग जुड़ जाते हैं।
(C) 5 अरब से 6 अरब तक बढ़ने में जनसंख्या को 100 वर्ष लगे।
(D) जनांकिकीय संक्रमण की प्रथम अवस्था में जनसंख्या वृद्धि उच्च होती है।
प्रश्न 5. जनसंख्या के वितरण को कौन-से कारक प्रभावित करते हैं?
(A) जनसंख्या वृद्धि
(B) जनसंख्या का घनत्व
(C) जनसंख्या घनत्व के क्षेत्र
(D) भौतिक, आर्थिक, सांस्कृतिक कारक ।
प्रश्न 6. संयुक्त राज्य अमेरिका विश्व का तीसरा सर्वाधिक जनसंख्या वाला देश है।
साथ ही यह क्षेत्रफल की दृष्टि से भी तीसरा सबसे बड़ा देश है । इसका जनसंख्या घनत्व
कितना है?
(A) 20 व्यक्ति प्रति वर्ग किमी.
(B) 58 व्यक्ति प्रति वर्ग किमी.
(C)28 व्यक्ति प्रति वर्ग किमी.
(D) 18 व्यक्ति प्रति वर्ग किमी.
प्रश्न 7. प्रौद्योगिकी ने अमेरिका के कौन-से आधुनिक नगरों में कृत्रिम पर्यावरण को
जन्म दिया?
(A) लास एंजिल्स
(B) सैन डियागो
(C) कैलीफोर्निया और एरीजोना
(D) सभी नगरों में।
प्रश्न 8. भारत में एक हेक्टेयर कृषि भूमि पर कितने व्यक्ति आश्रित हैं ?
(A)5
(B) 15
(C) 12
(D)0.4
प्रश्न 9. रूस को छोड़कर यूरोप के 40 स्वतंत्र देशों में सम्निलित झप से कितने लोग
रहते हैं?
(A) 50 करोड़
(B) 58.2 करोड़
(C) 104 करोड़
(D) 20 करोड़
प्रश्न 10. भारत की वार्षिक जनसंख्या वृद्धि दर कितनी है?
(A)2.0
(B) 1.7
(C)2.5
(D)2.6
प्रश्न 11. जर्मनी की वार्षिक जनसंख्या वृद्धि दर कितनी है?
(A) -3.6
(B) -2.8
(C) -0.1
(D) -0.6
प्रश्न 12. लैटिन अमेरिका तथा बंग्लादेश की जनसंख्या 1.8 प्रतिशत वार्षिक जनसंख्या
वृद्धि दर से कितने वर्षों में दुगुनी हो जाएगी?
(A)36 वर्ष
(B) 58 वर्ष
(C)46 वर्ष
(D) 38 वर्ष
प्रश्न 13. 2012 में विश्व की जनसंख्या कितनी हो जाएगी?
(A) 800 करोड़
(B) 1000 करोड़
(C) 2000 करोड़
(D) 550 करोड़
प्रश्न 14. चीन की आबादी है-
(A) एक अरब
(B) 1.5 अरब
(C)1.3 अरब
(D) 1.4 अरब
उत्तर:-
1. (क) 2. (घ) 3. (क) 4. (क) 5. (घ) 6. (ग) 7. (घ) 8. (क) 9.(क) 10. (ख)
11. (ग) 12. (घ) 13. (क) 14. (ग)।
भौगोलिक कुशलताएँ
प्रश्न 1. निम्नलिखित देशों के लिए जनसंख्या की वार्षिक वृद्धि (1995-2000) को
प्रदर्शित करने वाले एक उपयुक्त आरेख की रचना कीजिए-
(Prepare a suitable diagram to show the annual growth rate of population
(1995-2000) for the following countries 🙂
प्रश्न 2. विश्व के रेखा मानचित्र पर निम्न को उचित आभाओं द्वारा प्रदर्शित कीजिए:
अफ्रीका, एशिया, यूरोप, लैटिन अमेरिका और ओशीनिया में एक-एक सबसे अधिक
घने तथा सबसे विरल जनसंख्या वाले देश ।
(On the outline map of the world, show.the following with suitable
symbols:
Mostly densely and least densely populated countries and one each in
Africa, Asia, Europe, Latin America and Occenia.
उत्तर-
मानचित्र कार्य
प्रश्न 1. विश्व के रूपरेखा मानचित्र पर निम्नलिखित को दर्शाइए व उनके नाम
लिखिए।
(On the outline map of the world show and name the following)-
(1) यूरोप और एशिया के ऋणात्मक जनसंख्या वृद्धि दर वाले देश।
(ii) तीन प्रतिशत से अधिक जनसंख्या वृद्धि दर वाले अफ्रीकी देश । (मानचित्र देखें)
संकेत. तीन प्रतिशत से अधिक जनसंख्या वृद्धि वाले अफ्रीकी देश :
मैडगास्कर, नाइजर, रवांडा, सियरालोन, सोमालिया।
यूरोप के नकारात्मक जनसंख्या वृद्धि के देश :
अल्बानिया, वलगेरिया, क्रोएशिया, चैकोस्लोवालिया, इस्टोनिया, लटाविया, लुथानिया,
रोमानिया, स्लावाकिया।
एशिया : जापान

Leave a Comment

error: Content is protected !!