सात निश्चय योजना |ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

सात निश्चय योजना |ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

बिहार के सात निश्चय योजना के बारे में बताने जा रहे हैं हम बताएंगे कि सात निश्चय योजना क्या है इसके लिए सरकार क्या क्या काम कर रही है इस योजना के अंतर्गत क्या क्या कार्य होंगे पूरी जानकारी को पढ़ने के लिए हमारा पूरा आर्टिकल ध्यान से पढ़े और सात निश्चय योजना के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करें!!!!!!!!

सात निश्चय योजना क्या है?

मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना से सड़क से लेकर नाली तक का निर्माण कराया जाएगा। वहीं लोगों को शुद्ध पेयजल की सप्लाई भी की जाएगी।पंचायत के हर वार्ड सदस्य को विकास कार्यों में सहयोगी बनाने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री के सात निश्चय बिहार योजना में राज्य के एक लाख 14 हजार 733 वार्ड सदस्यों को भागीदार बनाया जा रहा है। मुख्यमंत्री गली-नाली पक्कीकरण निश्चय योजना का क्रियान्वयन अब इन वार्ड सदस्यों के माध्यम से किया जायेगा।

नाली-गली योजना के लिए आवश्यक हुआ तो भू-अर्जन भी किया जायेगा। योजनाओं के कार्यान्वयन की प्राथमिकता निर्धारण में वार्ड के अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति की जनसंख्या बाहुल्यता एवं उसके बाद वार्डों की जनसंख्या का ध्यान में रखकर तैयार किया जायेगा।योजनाओं की निगरानी व अनुश्रवण के लिए निगरानी समिति गठित की जायेगी। आवश्यकता पड़ने पर राज्य स्वतंत्र एजेंसी से भी जांच करा सकती है।सात निश्चय बिहार योजना का अंतर्गत सड़को का निर्माण, लगातार बिजली की व्यवस्था करना, शौचालय का निर्माण कराना और कॉलजो का निर्माण तथा महिलाओ को आत्मनिर्भर बनाने की हर संभव कोशिश करेगी।

सात निश्चय योजना के लाभ

  • सात निश्चय बिहार योजना का अंतर्गत सड़को का निर्माण|
  •  बिजली की व्यवस्था करना|
  • शौचालय का निर्माण कराना |
  •  कॉलजो का निर्माण |
  • महिलाओ को आत्मनिर्भर बनाने की हर संभव कोशिश करेगी।
  • सात निश्चय बिहार योजना का उद्देश्य बिहार में विकास लाना है |
  • इसमें महिलायो को सरकारी नोकरी के लिए उनके 35% आरक्षण देने का फैसला किया जिससे की उन्हें आसानी से सरकारी नोकरी मिल सके।
  • इस योजना का महिलाओ को आत्मनिर्भर बनाने में बहुत बड़ा महत्त्व रहेगा।

सात निश्चय योजना के लिए आवेदन

दोस्तों हम बताना चाहते हैं इस योजना में जो भी कार्य किया जाएगा वह पंचायत के मुखिया की सहायता से किया जाएगा|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!