Biography

Ravichandran Ashwin Biography in Hindi – रविचंद्रन अश्विन जीवनी

Ravichandran Ashwin Biography in Hindi – रविचंद्रन अश्विन जीवनी

Ravichandran Ashwin Biography in Hindi

भारतीय टेस्ट टीम में जिन फिरकी गेंदबाज का दबदबा रहा है उनमें गिने चुने नाम हैं। पूर्व कप्तान अनिल कुंबले और टर्बुनेटर हरभजन सिंह के बाद अगर किसी स्पिन गेंदबाज का नाम बड़े गर्व से लिया जाता है तो वे हैं रविचंद्रन अश्विन, जिन्होंने भारतीय टीम के लिए दमदार प्रदर्शन करते हुए तमाम रिकॉर्ड्स अपने नाम किए हैं। यहां तक कुछ वर्ल्ड रिकॉर्ड तो ऐसे हैं जो खुद आर अश्विन के नाम दर्ज हो गए हैं।

साल 1986 में 17 सितंबर को चेन्नई में जन्मे आर अश्विन आज 33 साल के हो गए हैं। कैरम बॉल के जादूगर आर अश्विन ने टेस्ट क्रिकेट ही नहीं, बल्कि वनडे इंटरनेशनल और टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में अपना जलवा बिखेरा है। जरूरत पड़ने पर प्रीमियर स्पिनर माने जाने वाले आर अश्विन ने भारतीय टीम के लिए मुश्किल समय में बल्लेबाजी भी की है और तमाम रन बनाकर टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई है।

दोस्तों आज मै बात करने जा रहा हूँ, दुनिया के सबसे सफल स्पिन बॉलरस में से एक भारतीय क्रिकेट टीम के एक अद्भुत आलराउन्डर खिलाड़ी रविचंद्रन अश्विन की, जिनके नाम सिर्फ 50 टेस्ट मैचेज में 275 विकेट लेने का वर्ल्ड रिकार्ड है |

इसके अलावा सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ के बाद वे ऐसे भारतीय खिलाड़ी है, जिन्होंने ICC Cricketer Of The Year का अवार्ड अपने नाम किया है |

रविचंद्रन अश्विन ने अपने पैशन को फालो करते हुए इंजिनियरिंग की पढ़ाई करने के बावजूद इंजिनियरिंग में करियर बनाने की जगह क्रिकेट को चुना और उन्होंने अपने इस फैसले से फिर से साबित किया, की अगर आप अपने पैशन को फालो करतें है तो आप जरुर सफल होंगे |

तो चलिए दोस्तों हम रविचंद्रन अश्विन की लाइफ स्टोरी को शुरू से जानते है |

रविचंद्रन अश्विन की जीवनी – R Ashwin Biography in Hindi

रविचंद्रन अश्विन का जन्म 17 सितम्बर 1986 को एक तमिल परिवार में हुआ। वह मेम्बलम पश्चिम चेन्नई में रहते हैं। उन्होंने स्कूली शिक्षा पद्म शेषाद्रि बालभवन तथा सेंट बेद से प्राप्त की। एस एस एन कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से उन्होंने इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी में बी टेक की डिग्री प्राप्त की। उनके पिता रविचंद्रन क्लब में तेज़ गेंदबाज़ के तौर पर क्रिकेट खेलते थे इन्ही अश्विन को क्रिकेट की प्रेरणा मिली। अश्विन की माँ चित्रा ने उनकी लंबी गेंदबाज़ी रन अप में समस्या को देखते हुए उन्हें स्पिन गेंदबाजी की सलाह दी।

13 नवम्बर 2011 को उन्होंने अपनी बचपन की दोस्त प्रीति नारायणन से विवाह किया। 11 जुलाई 2015 को उनकी पहली पुत्री अकीरा का जन्म हुआ। उनकी दूसरी पुत्री अद्या का जन्म 2016 में हुआ।

क्रिकेट करियर – R Ashwin Cricketer Career

अनिल कुंबले की तरह रविचंद्रन अश्विन भी इंजीनियरिंग की पढ़ाई छोड़कर क्रिकेट में कैरियर बनाने को प्राथमिकता दी। शुरुवाती समय में अश्विन तमिलनाडु क्रिकेट टीम दक्षिण जोन के लिए ऑलराउंडर के रूप में खेलते थे। आश्विन ने 2006-07 में तमिलनाडु की ओर से खेलते हुए 20 से भी कम औसत से 31 विकेट झटके। लेकिन इसी सीजन में कलाई की चोट के चलते अश्विन यह प्रदर्शन जारी रखने में नाकाम रहे।

इसके बाद इनका सिलेक्शन इंडियन प्रीमियर लीग में चेन्नई सुपर किंग्स की ओर हुवा। 2008 में आश्विन ने आईपीएल के जरिए शानदार वापसी की। वह टूर्नामेंट में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए 2010 में 13 विकेट लेने वाले बने। इसके बाद इनका सिलेक्शन इंटरनेशनल क्रिकेट में हुवा। हालाँकि जूनियर स्तरीय क्रिकेट में एक शुरुआती बल्लेबाज के रूप में छोटी सफलता हासिल करने के बाद, अश्विन ने ऑर्डर हटा दिया और ऑफ ब्रेक गेंदबाज बन गए।

2010 की शुरुआत में आश्विन को टीम इंडिया की ओर से खेलने का मौका मिला। 2011 में विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम का भी अश्विन हिस्सा थे लेकिन हरभजन सिंह के टीम में होने के कारण उनको मौका नही मिला खेलने का। लेकिन अश्विन लगातार मेहनत करते रहे और उनके निरंतर सुधरते प्रदर्शन और हरभजन के डूबते करियर के चलते अश्विन टीम में स्थाई हो गए। रविचंद्रन अश्विन आईपीएल के मध्यम से नज़रों में आए थे, लेकिन जल्दी ही उन्होने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी जगह ढूँढ ली।

अपने पहले ही टेस्ट मैच में वेस्ट इंडीज़ के खिलाफ अश्विन ने 9 विकट लिए, जो की नरेंद्र हिरवानी के बाद किसी भी भारतीय का पहले मैच में सबसे ज़्यादा विकट लेने का रिकॉर्ड है। उन्हें अपने पहले ही टेस्ट मैच में मॅन ऑफ द मैच मिला। आईपीएल में चेन्नई सूपर किंग्स के दो साल के प्रतिबंध के चलते अश्विन को राइज़िंग पुणे सूपरजाइयेंट ने 2016 में 7.5 करोड़ में खरीदा। उनकी कैरम्म बॉल, उतनी ही बेहतरीन आर्म बॉल, ऑफ स्पिन गेंद पर नियंत्रण, और एक तेज़ दिमाग़ ने अश्विन को सीमित ओवेरो की क्रिकेट का धुरंधर स्पिन्नर बना दिया।

अपने पहले 16 टेस्ट मैचों में ही अश्विन 9 बार पारी में 5 या उससे अधिक विकट ले चुके थे और 2013 में उन्होने एरपल्ली प्रसन्ना का रिकॉर्ड तोड़ कर टेस्ट मैचों में भारत की तरफ से सबसे तेज़ 100 विकट लेने का कीर्तिमान महज़ 18 टेस्ट मैचों में बना दिया।

अश्विन ने अपना 200वां विकेट न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के खिलाफ ग्रीन पार्क स्टेडियम, कानपुर में 26 सितम्बर को लिया था साथ ही ये भारत दुसरे सबसे तेज 200 विकेट लेने वाले भी बन गए। अपने शानदार प्रदर्शन के चलते अश्विन को आईसीसी ने 2016 में टेस्ट प्लेयर ऑफ द ईयर और आईसीसी क्रिकेटर ऑफ थे ईयर के खिताब से नवाज़ा।

अश्विन 2017 में टेस्ट मैचों में गेंदबाज़ों और ऑल राउंडरों की सूची में दूसरे स्थान पर हैं। अश्विन एकमात्र ऐसे भारतीय क्रिकेटर हैं जिसने एक ही टेस्ट मैच में शतक लगाने के अलावा 5 विकेट लेने का कारनामा दो बार किया। अश्विन अपने पदार्पण मैच में ही ‘मैन ऑफ द मैच’ अवॉर्ड पाने वाले तीसरे भारतीय क्रिकेटर हैं।

Ashwin’s Favourites

Favourite Batsman: Sachin Tendulkar, Clive Lloyd, Vivian Richards

Favourite Bowler: Shane Warne

Favourite All-rounder: Kapil Dev

Favourite Food: Chocolates

Favourite Actor: Santhanam

Favourite Film : 3 Idiots, Vertical Limit

Favourite Musician: A R Rahman, Shoaib Bhushan

Batting Career Summary
M Inn NO Runs HS Avg BF SR 100 200 50 4s 6s
Test 71 98 13 2389 124 28.11 4374 54.62 4 0 11 270 14
ODI 111 61 19 675 65 16.07 776 86.98 0 0 1 59 6
T20I 46 11 7 123 31 30.75 115 106.96 0 0 0 14 1
IPL 139 52 17 375 45 10.71 339 110.62 0 0 0 32 10
Bowling Career Summary
M Inn B Runs Wkts BBI BBM Econ Avg SR 5W 10W
Test 71 132 19586 9282 365 7/59 13/140 2.84 25.43 53.66 27 7
ODI 111 109 6021 4937 150 4/25 4/25 4.92 32.91 40.14 0 0
T20I 46 46 1026 1193 52 4/8 4/8 6.98 22.94 19.73 0 0
IPL 139 136 2924 3309 125 4/34 4/34 6.79 26.47 23.39 0 0

Leave a Comment

error: Content is protected !!