Biography

Mark Zuckerberg Success Story Facts in Hindi – मार्क जकरबर्ग सफलता से जुडें महत्वणूर्ण तथ्य

Mark Zuckerberg Biography In hindi | मार्क ज़ुकरबर्ग की जीवनी


मार्क ज़ुकेरबर्ग का पूरा नाम मार्क एलियट ज़ुकेरबर्ग (Mark Elliot Zuckerburg) है.
इनका जन्म मई 14, 1984 में ज़ुकेरबर्ग विएत प्लेन्स, न्यूयोर्क में एक यहूदी कुटुंब में हुआ, वे डेंटिस्ट एडवर्ड जुकेरबर्ग और मनोचिकित्सक करेन केम्प्नेर के बेटे है.
वे और उनकी तीन बहने Randi, Donna और Arielle, न्यू-यॉर्क में ही बड़े हुए। जुकेरबर्ग यहूदी में ही बड़े हुए.

image

प्रारंभिक जीवन Early Life

Mark Zuckerberg ने कंप्यूटर पर सॉफ्टवेयर प्रोग्रामिंग सबसे पहले अपने पिता से सिखा । वह सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट को लेकर इतने उत्साहित थे की उन्होंने उस उम्र में ही ZuckNet नामक सॉफ्टवेयर बनाया था जिससे उनके परिवार के लोग जैसे पिता के दन्त चिकित्सालय में उपयोग किया जाता था । उनके घर में भी एक कंप्यूटर से दुसरे कमरे के कंप्यूटर पर बातचीत या कुछ भी सूचित करने के लिए उनका सॉफ्टवेयर उपयोग में लाया जाता था ।

Zuckerberg और उनके 3 मित्र Andrew McCollum, Chris Hughes and Dustin Moskovitz ने 28 अक्टूबर, 2003 में FaceMash नाम से एक वेबसाइट भी डिजाईन किया था जिसके ऑनलाइन सॉफ्टवेयर के द्वारा उपयोगकर्ता एक छात्र से दुसरे छात्र के फोटो के लिए “हॉट” या “नॉट” रेटिंग कर सकते थे ।
शिक्षा:
उन्होंने प्रोग्रामिंग तभी शुरू कर दिया था जब वह मिडिल स्कूल में थे| पहले से ही, ज़ुकेरबर्ग कंप्यूटर प्रोग्राम विकसित करने में मज़ा ले रहा था, विशेष रूप से संचार उपकरण और खेलों में.

Ardsley हाई स्कूल में उन्होंने ग्रीक रोमनिय भाषा साहित्य का अध्ययन किया था| और बाद माध्यमिक शिक्षा प्राप्त करने के लिए उन्हें फिलिप्स एक्सेटर अकादमी, हैम्पशायर भेजा गया.

जहा विज्ञान और साहित्यिक अभ्यास में उन्हें कई पुरस्कार भी मिले, एक कॉलेज पत्र में जुकेरबर्ग ने यह कहा था की वे अच्छी तरह से फ्रेंच, हिब्रू, लैटिन और प्राचीन ग्रीक पढ़ और लिख सकते है.

हाई स्कूल की शिक्षा उत्तीर्ण करने के बाद उन्होंने हार्वर्ड विश्वविद्यालय जाने का निश्चय किया, जहाँ वह एकयहूदी बिरादरी,अल्फा एप्सिलोन में भर्ति हुए| वह कॉलेज में, महान कविता जैसे “द लिअड” से पंक्तियों पड़ने के लिए जाने जाते थे.

अपने कॉलेज रूममेट्स और हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के सहकर्मी Eduardo Saverin, Andrew McCollum, Dustin Moskovitz और Chris Hughes के साथ मिलकर उन्होंने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में ही फेसबुक की स्थापना की थी|

ज़ुकेरबर्ग ने अपने हार्वर्ड छात्रालय के कमरे से फरवरी 4, 2004 को फेसबुक का प्रारंभ किया.

बाद में उनके समूह ने फेसबुक को यूनिवर्सिटी के दुसरे लोगो तक भी पहुचाया और धीरे-धीरे इसे ज्यादा से ज्यादा लोग पसंद करने लगे और 2012 तक फेसबुक का लगभग 1 बिलियन से भी ज्यादा लोग उपयोग करने लगे.

            Mark Zuckerberg Success Story Facts in Hindi  – मार्क जकरबर्ग सफलता से जुडें महत्वणूर्ण तथ्य

  • फेसबुक के संस्थापक मार्क जकरबर्ग (Mark Zuckerberg) का पूरा नाम मार्क एलियट जकरबर्ग है
  • इनका जन्म 14 मई सन 1984 में अमेरिका में हुआ था
  • मार्क जुकरबर्ग (Mark Zuckerberg) ने सोशल नेटवर्क साइट फेसबुक को 4 फरवरी 2004 को शुरू किया था
  • फेसबुक मार्क की पहली वेवसाइट नहीं थी मार्क जब 12 साल के थे तब उन्होेंने जुकनेट (Zucknt) नाम का मेसेंजिंग प्रोग्राम बनाया था जिसका इस्तेमाल उनके घर के भीतर बातचीत करने के लिए किया जाता था
  • इसके बाद जब वह उच्चमाध्यमिक स्कूल में थे तो इन्होने एक MP3 मीडिया प्लेयर भी बनाया था
  • फेसबुक बनाने से एक साल पहले जुक ने Facemash नाम की एक वेवसाडट बनायी जिसके लिए उन्होने हार्वड कॉलेज के डेटाबेस का हैक किया था
  • Facemash एक वोटिंग वेवसाइट थी जिसपर दो लडकियों के फोटो दिखाई देते थे और यूजर्स से कौन ज्यादा सुन्दर है के लिए वोटिंग कराई जाती थी
  • यह साइट कुछ ही समय में इतनी पोपुलर हो गयी कि कुछ ही समय में हार्वड का सर्वर क्रैश हो गया और इसके लिए जुकरबर्ग पर हैकिंग का इल्जाम भी लगा था
  • अब बारी आई फेसबुक की, फेसबुक का आइडिया जुक के पास दिव्य नरेन्द्र लेकर आया था दिव्य नरेन्द्र के दो और पार्टनर भी थे
  • दिव्य नरेन्द्र ने Mark को सोशल साईट बनाने का कहा था जिसका नाम “Harvard Connection” होगा
  • उसी हार्वर्ड कनेक्शन (Harvard Connection) पर काम करने के दौरान ही Mark को खुद की एक सोशल साईट बनाने का एक बेहतरीन विचार आया
  • मार्क ने फ़रवरी 2004 में thefacebook.com नाम की वेबसाइट को शुरू किया बाद में जिसे आज facebook.com के नाम से जाना जाता है
  • Mark ने 19 मई 2012 को अपनी लम्बे समय की प्रेमीका Priscilla Chan, California की रहने वाली से शादी कर ली
  • जब फेसबुक पर 4000 ट्रैफिक हो गए तब Mark और उसके पार्टनर eduardo ने कुछ और नए programmers को काम पर लगाया जो website पर अच्छे तरीके से काम करे। मार्क ज़ुकरबर्ग कंपनी के वोट का लगभग 60% नियंत्रित करतें है, 35% – eduardo Saverin, और 5% बाकि के नए पार्टनर। 2005 से Facebook को पुरे USA के सभी संस्थानों और विश्वविद्यालयो में उपयोग करने योग्य बन गई। Mark एक ही बात को मानते थे वो बस उनकी वेबसाइट Students के लिए है।
  • Facebook पर बहुत तेज़ी से ट्रैफिक बढ़ने लगे और जैसे ही 50 मिलियंस ट्रैफिक हुए फिर एक बड़ी कंपनी Yahoo! ने Mark से Facebook को खरीदने का ऑफर किया। सबसे पहला ऑफर Yahoo! ने 900 मिलियंस डॉलर फेसबुक के लिए ऑफर किया था। हलाकि यह बहुत बड़ी रकम है लेकिन Mark ने इस ऑफर को पूरा नहीं किया। इसके साथ ही Facebook बहुत ही आगे बढ़ने लगी और धेरे-धीरे यह पुरे दुनिया के कोने कोने में उपयोग होने लगी। और आज फेसबुक पूरी दुनिया की सबसे बड़ी सोशल साईट है, जिस पर हर इन्टरनेट यूजर अकाउंट बनता/बनती ही है। और साथ ही आज मार्क ज़ुकरबर्ग पुरे दुनिया के सबसे बड़े Yongest Billionairs मे से एक है।

 

Leave a Comment

image
error: Content is protected !!