Biography

Larry page and google success story – लैरी पेज और गूगल की सफलता की कहानी

Larry page and google success story – लैरी पेज और गूगल की सफलता की कहानी

image

लैरी पेज (Larry page) दुनियां की एक जानी मानी गूगल के संस्‍थापक है पर क्‍या आप जानतेे हैं कि इस कंपनी की शुरूआत लैरी पेज (Larry page) ने कैसेे और कब की थी अगर नहींं तो आइयेे इस कंपनी केे संस्‍थापक की सफलता की कहानी (success story) के बारे में- Larry page and google success story – लैरी पेज और गूगल की सफलता की कहानी –

लैरी पेज का जन्‍म 23 मार्च 1973 को संयुुक्‍त राज्‍य अमेरिका (United States of america) के राज्‍य मिशिगन (Michigan) में हुआ था
लैरी पेज का पूरा नाम लारेंस पेज (Lawrence Page) है
इनके माता पिता मिशिगन स्टेट यूनिवर्सिटी (Michigan State University) के कंंप्‍यूटर विज्ञान के प्रोफेेसर थे
लैरी पेज की रूचि कंप्‍यूटर में बचपन से ही थी
लैरी पेज ने स्‍टेन फाेेर्ड यूनिवर्सिटी मिशिगन (Stanford, University of Michigan) से कंप्‍यूटर इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्‍त की थी
यहॉ इनकी मुलाकत सर्गी ब्रिन (Sergey Brin) से हुई और दोनों ने मिलकर 1996 में गूगल नामक सर्च इंजन की शुरूआत की थी
शुुरूआत में ये बडा साधारण सा सर्च इंजन था जल्‍द ही इसने दुनियांभर में लोकप्रियता हासिल कर ली
1998 में लैरी और ब्रिन ने 10 लाख अमेरिकी डॉलर का कर्ज लेकर गूगल इंक (Google Inc) कंपनी लॉन्‍च की, जिसका मुुख्‍यालय केलिफोर्निया की सिलिकान वैली (California’s Silicon Valley) में है

गूगल के बारे में 10 महत्वपूर्ण तथ्य
गूगल जल्‍द ही पूरी दुनियां का चहेता बन गया
2004 में गूगल के शेयर बाजार में उतारे गये जिसने लैरी पेेज और सर्गी ब्रिन (Larry Page and Sergey Brin) को अरबपति का दर्जा दिला दिया
गूगल की सबसे लोकप्रिय सेवा जीमेल (Gmail) की शुरूआत 1 अप्रेल 2004 को हुई थी,
जीमेल का यह ट्रिक आपको पता होना चाहिये
14 नबंवर 2006 को गूगल ने दुनियांं की सबसे लोकप्रिय और सबसे बडी विडियो लाइब्रेरी जिसे आप यूट्यू्ब (youtube) केे नाम से जानतेे हैंं का अधिग्रहण कर लिया
सन् 30 अप्रैल, 2009 को गूगल ने मोबाइल फोन के लिए पहला एंड्रॉयड ऑपेरटिंग सिस्‍टम (Android operating system) लॉच किया, जो इतना लोकप्रिय हुआ कि आज तक दुनियांभर के मोबाइल फोनों पर छाया हुआ है
यूट्यूब के बारे में मजेदार बातें

अब तक लैरी पेज का गूगल पूरी दुनियाॅॅ पर छा चुुका था
सितम्‍बर 2013 में मशहूूर फोर्ब्स पत्रिका (Forbes Magazine) ने दुनियां के सबसे अमीर लोगों की सूची मेेंं लैरी को तेेरहवें स्‍थान पर रखा
गूूगल की कई सारी बेहतरीन सुविधाऐं लोगों के लिए नि शुल्‍क हैं जिसमें गूगल सर्च केे अलावा जी-मेल (Gmail), यूट्यूब (youtube), गूगल ट्रान्‍सलेट (Google Translate) और सोशल नेेटवर्किग साइट गूगल प्‍लस (Social networking site Google Plus) मुख्‍य हैं
बदलें गूगल सर्च व गूगल+ का बैकग्राउंड
गूूगल की कमाई का मुख्‍य जरिया गूगल पर दिखाये जाने वाले विज्ञापनों से है जो गूगल के ऐडसेंस (Google’s AdSense) नामक प्‍लेटफार्म के जरियेे दिखाये जाते हैं, अगर आप ब्‍लॉगर (Blogger) हैं तो ऐडसेंस का महत्‍व जानते ही होंगे
इस प्रकार अपने उल्‍लेखनीय कार्यों के लिए लैरी पेज को अनेक पुरस्‍काराेेंं से सम्‍मानित किया गया हैै जिसमें मुख्‍य हैं- मारकोनी फाउंडेशन पुरस्कार (Marconi Foundation Prize,), ग्लोबल लीडर फॉर टुमॉरो (Global Leader for Tomorrow), टेक्निकल एक्सलेंस पुरस्कार (Technical Excellence Award), वेब्बी अवार्ड (Webby Award), पीपल्स वॉईस पुरस्कार (People’s Voice Award), सर्च इंजन पुरस्कार (Search Engine Award)
अभी हाल ही में फिल्म निर्माता करण जौहर (Karan Johar) का गूगल के बारे में कहा है कि “हम हमेशा कोई भी फिल्म बनाने से पहले सारी जानकारी खोजते हैं. जब हम फिल्म बनाते हैं तो फिर पूरा मामला शोध का हो जाता है. मुझे नहीं लगता कि ऐसा कोई भी फिल्मकार होगा, जिसका काम गूगल के बिना चल सकता है.”
लैरी की दिन-रात की मेहनत का ही फल है कि आज दुनियॉ भर में ज्‍यादातर लोग इंटरनेट (Internet) की शुरूआत गूगल से ही करते हैं, इंटरनेट उनके लिये दिन-ब-दिन आसान होता जा रहा है। थैंक्स फॉर लैरी पेज!

Leave a Comment

image
error: Content is protected !!