History

Emili Shenkel biogrphy in hindi – एमिली शेंकल की जीवनी

Emili Shenkel biogrphy in hindi – एमिली शेंकल की जीवनी

image

Emili Shenkel biogrphy in hindi

एक ऐसे देश को ससुराल के रूप मे चुना जहां कभी इस “बहू” का स्वागत नही किया गया….न बहू के आगमन पर मंगल गीत गाये गये….न बेटी(अनीता बोस) के जन्म होने पर कोई सोहर ही गाया गया…..यहां तक गुमनामी की इतनी मोटी चादर के नीचे उन्हे ढ़ंक दिया गया कि कभी जनमानस मे चर्चा भी नही हुई..जी हा आ बात करने जा रहे है नेताजी सुभाष चंद्र बोस की धर्मपत्नी जिनका नाम एमिली शेंकल है |

नेताजी सुभाष चंद्र बोस का जीवन हैरत अंगेज कारनामों से भरा पड़ा है। एक मेधावी छात्र जिसने सिविल सेवा पास करने के बाद अफसरशाही की नौकरी छोड़ दी और देश सेवा में पूरा जीवन झोंक दिया, आज भी लोगों के लिए किसी पहेेेेली से कम नहीं हैं।सुभाष चंद्र बोस के जीवन के बहुत सारे पहलू काफी रोचक हैं, ऐसा ही एक दिलचस्प पहलू है उनकी शादी से जुड़ा हुआ। बोस ने एमिली शेंकल से प्रेम-विवाह किया था। कहते हैं कि 1934 में सुभाष चंद्र बोस अपना इलाज कराने के लिए ऑस्ट्रिया गए थे इसी दौरान उन्हें जीवनी लिखने का विचार आया, जिसके लिए उन्हें एक टाइपिस्ट की जरूरत थी।

तब उनके ऑस्ट्रिया के एक फ्रेंड ने उनकी मुलाकात एमिली शेंकल से करवाई, जो धीरे-धीरे पहले उनकी फ्रेंड बनीं और बाद में प्रेमिका। दोनों ने इस रिश्ते का नाम देने का फैसला किया और इसलिए 1937 में दोनों ने शादी कर ली। 29 नवंबर 1942 को विएना में एमिली ने एक बेटी को जन्म दिया। सुभाष ने अपनी बेटी का नाम अनीता बोस रखा था।

अपने 7 साल के कुल वैवाहिक जीवन मे पति के साथ इन्हे केवल 3 साल रहने का मौका मिला…..फिर इन्हे और नन्ही सी बेटी को छोड़कर बोस जी देश के लिए लड़ने चले गये….!!!!

अपनी पत्नी से इस वादे के साथ गये की पहले देश आजाद करा लूँ फिर हम साथ-साथ रहेगे….अफसोस कि ऐसा हुआ नही क्योंकि कथित विमान दुर्घटना मे बोस जी लापता हो गए….!!

उस समय “एमिली शेंकल” बेहद युवा थीं वो चाहती तो युरोपीय संस्कृति के अनुसार दूसरी शादी कर लेती पर नही की और बेहद
कठिन तरीके से जीवन गुजारा……आपको जान कर बेहद दु:ख होगा कि
एक तारघर मे मामूली क्लर्क के नौकरी और बेहद कम वेतन के साथ वो अपनी बेटी को पालती रही…….तब तक भारत आजाद हो गया था वो चाहती थी…उनका बहुत मन था……भारत आने का…. की एक बार अपने पति के वतन की मिट्टी को हाथ से छू कर नेताजी को महसूस करूं……जिस वतन के लिए मेरे पति ने अपना जीवन होम कर दिया.पर कुछ कारन बस वह भारत नही आ सकी |

लेकिन शेंकल ने कभी भी बोस की पत्नी होने की पहचान उजागर नहीं की और इसलिए वो अपनी बेटी को लेकर आस्ट्रिया में अलग रहती थीं औऱ जीविका के लिए एक तारघर में काम करती थीं। अनीता बोस ने काफी वक्त बाद मीडिया से कहा था कि उनकी मां को भी बोस की मौत की खबर अन्य लोगों की तरह रेडियो समाचार से मिली थी।

मालूम हो कि अनिता बोस फाफ एक जर्मन अर्थशास्त्री हैं। वह ऑग्सबर्ग यूनीवर्सिटी में प्रोफेसर रह चुकी हैं। इस समय वह अपने पति प्रो मार्टिन फाफ के साथ उनकी जर्मन सोशल डिमोक्रेटिक पार्टी में सक्रिय रहती हैं।

अगस्त 1945 में जब बोस का विमान दुर्घटना में देहान्त की खबर आई थी,उस समय अनीता बहुत छोटी बच्ची थी। दुर्घटना से पूर्व सुभाष अपनी बेटी को देख आये थे। अनिता बोस नाम उन्होंने ही दिया था।

अपनी शिक्षा पूर्ण करने के बाद अनिता ने प्रोफेसर मार्टिन फाफ के साथ विवाह कर लिया। उनके पति बुण्डेस्टैग जर्मनी की संसद के सदस्य थे और जर्मन सोशल डिमोक्रेटिक पार्टी से सम्बन्ध रखते थे। अनिता को शादी से एक बेटा व दो बेटियां हैं। बेटे का नाम है पीटर अरुण और बेटियों का थॉमस कृष्णा व माया कैरीना।

 

Leave a Comment

image
error: Content is protected !!